वाल्मीकि समाज यूनियन ने जमकर जताया विरोध, IG को सौंपा ज्ञापन, ये है पूरा मामला

इंदौर, आकाश धोलपुरे। एक तरफ शहर को नम्बर 1 बनाने में अपना अहम योगदान देने वाले सफाई मित्र और सफाई यूनियन तो दूसरी तरफ बड़ी संख्या में पुलिस बल। ये नजारा इंदौर का है। दरअसल, मंगलवार को इंदौर के आजाद नगर थाना क्षेत्र के मूसाखेड़ी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा था। वायरल वीडियो सोमवार शाम का बताया जा रहा है जिसमे एक पुलिसकर्मी और कुछ लोग आपस मे भिड़ते नजर आए थे और इस दौरान जमकर गाली गलौच भी हुई थी। असल मे ये वीडियो उस वक्त बनाया जा रहा था जब निगम के दरोगा अजित कल्याणे और कांस्टेबल सईद खान के बीच बहस चल रही थी। निगम दरोगा अजित कल्याणे ने खाकी वर्दी में मौजूद पुलिसकर्मी सईद खान ने मास्क न धारण करने पर चलानी कार्रवाई की बात की तो खाकी का रसूख आड़े आ गया। जिसके बाद विवाद इतना बढ़ गया कि आखिर में बात गुत्थमगुत्था तक पहुंची और फिर जमकर गाली गलौच होने लगी।

ये वीडियो जब पुलिस के आला अधिकारियों तक पहुंचा तो आनन फानन कार्रवाई कर निगम दरोगा को पुलिस थाने ले आई और फिर प्रकरण भी दर्ज कर लिया वही निगम प्रशासन ने भी दरोगा पर कार्रवाई कर दी। इस बात से आहत इंदौर के वाल्मीकि समाज बड़े नेतृत्वकर्ता आज सुबह सफाइमित्रो और महिला सफाइमित्रो के साथ आई.जी. कार्यालय पर ज्ञापन देने पहुंचे। नगर निगम परिसर में मौजूद यूनियन और वाल्मीकि समाज के लोग बड़ी संख्या में पहुंचे। ज्ञापन देने के पहले समाजजनों ने जमकर नारेबाजी कर पुलिस कार्रवाई पर अपना विरोध जताया। इधर, दूसरी ओर आईजी कार्यालय पर बड़ी संख्या में पुलिसबल भी मौजूद था।

दरअसल, दोनों और कोरोना वारियर्स है ऐसे में अब ये मुद्दा बढ़ा गया है जहां खाकी को अपनी शान बचाने के लिए कार्रवाई करनी पड़ी तो दूसरी ओर शहर को नम्बर 1 बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले सफाइमित्रो कि मांग भी बहुत हद जायज मानी जा रही है।

राज्य सफाई कर्मचारी मोर्चा के अध्यक्ष प्रताप करोसिया ने बताया कि पुलिस कार्रवाई से समूचे वाल्मीकि समाज मे रोष है और वाल्मीकि समाज ज्ञापन के माध्यम से मांग कर रहा है कि दरोगा अजित कल्याणे पर लगाये गए प्रकरणों का खात्मा किया जाए वही दोषी पुलिसकर्मी सईद खान पर कार्रवाई कर उन्हें निलंबित किया जाए। प्रताप करोसिया ने कहा कि यदि उनकी मांगें नही मानी जाती है तो दलित और वाल्मीकि समाज के हितैषी मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान जब इंदौर प्रवास पर आएंगे तब उनके सामने समूचा वाल्मीकि समाज अपना विरोध दर्ज कराएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here