West Bengal: पीएम मोदी का ऐलान, पश्चिम बंगाल रेल हादसे के पीड़ितों को मिलेगी 2 लाख की सहायता राशि

West Bengal: सोमवार सुबह पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में एक भयानक रेल हादसा हो गया। न्यू जलपाईगुड़ी से सिकंदराबाद जा रही कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन (13174) मालगाड़ी से टकरा गई, जिसके परिणामस्वरूप कई बोगियां पटरी से उतर गईं।

west bengal

West Bengal: पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में आज सुबह एक दर्दनाक ट्रेन हादसा हो गया। कोलकाता जा रही कंचनजंगा एक्सप्रेस रेलवे स्टेशन के पास मालगाड़ी से टकरा गई। यह घटना सुबह लगभग 9 बजे रंगापानी के पास हुई, जो न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन के करीब है। उत्तर पूर्व सीमांत रेलवे (एनएफआर) के कटिहार मंडल के मंडल रेलवे प्रबंधक ने बताया कि 13174 कंचनजंगा एक्सप्रेस मालगाड़ी से टकरा गई, जिससे कुछ लोगों के घायल होने की खबर है।

टक्कर इतनी तेज थी कि कंचनजंगा एक्सप्रेस की तीन बोगियां पटरी से उतर गईं, जिससे कई यात्री घायल हो गए। घटनास्थल पर राहत और बचाव कार्य तुरंत शुरू कर दिया गया। एनडीआरएफ और रेलवे की टीमें मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल ले जाया गया। घायलों की संख्या अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाई है, लेकिन कुछ गंभीर रूप से घायल होने की खबर है।

PM मोदी ने अनुग्रह राशि की घोषणा की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल में हुई रेल दुर्घटना के पीड़ितों के लिए अनुग्रह राशि की घोषणा की है। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, दुर्घटना में मारे गए प्रत्येक व्यक्ति के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख रुपए की अनुग्रह राशि दी जाएगी। इसके अतिरिक्त, दुर्घटना में घायल हुए व्यक्तियों को 50,000 रुपए की सहायता राशि प्रदान की जाएगी। प्रधानमंत्री मोदी ने इस दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है और मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की है। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है और केंद्र सरकार द्वारा हर संभव मदद का आश्वासन दिया है।

ममता बनर्जी ने X पर पोस्ट कर कही ये बात

पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस हादसे पर अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं और अपने आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट
X पर पोस्ट करके दुख जताया है। उन्होंने लिखा है, ” अभी-अभी दार्जिलिंग जिले के फांसीदेवा क्षेत्र में एक दर्दनाक ट्रेन दुर्घटना के बारे में जानकर स्तब्ध हूं।” इस दुर्घटना से प्रभावित लोगों के प्रति उनकी संवेदनाएं और सहानुभूति है।

 

5 लोगों की मौत

कंचनजंगा एक्सप्रेस हादसे में राहत और बचाव कार्य पूरा हो चुका है। रेलवे बोर्ड की चेयरपर्सन और सीईओ जया वर्मा सिन्हा ने जानकारी दी है कि हादसे में दुर्घटनास्थल पर ही चालक (लोको पायलट) की मृत्यु हो गई थी, जिन्होंने सिग्नल को पार किया था। इसके अलावा, कंचनजंगा एक्सप्रेस के गार्ड की भी दुखद रूप से मौत हो गई है।

अधिकारियों के अनुसार राहत कार्य अब संपन्न हो चुका है। घायलों को अस्पताल पहुंचा दिया गया है और उनके इलाज की व्यवस्था की जा रही है। साथ ही, यात्रियों की सहायता के लिए अगरतला-सीलदाह मार्ग पर आने वाले सभी रेलवे स्टेशनों पर हेल्प डेस्क स्थापित कर दी गई हैं। इस हादसे में अब तक चालक और गार्ड समेत कम से कम 5 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है , कई यात्री घायल भी हुए हैं। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव हादसे पर निगरानी रखे हुए हैं।


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News