ग्वालियर, अतुल सक्सेना। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan)के निर्देश पर प्रदेश में शुरू किये गए एंटी माफिया अभियान (Anti mafia campaign) के निशाने पर आये ग्वालियर (Gwalior) के जिस बालाजी मैरिज गार्डन  (Balaji Marriage Garden)पर हुई जिला प्रशासन की अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई ( Anti encroachment action)को कांग्रेस (Congress) मुद्दा बनाकर जिला प्रशासन और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) पर निशाना साध रही थी उसी गार्डन के संचालक ने रविवार को मीडिया के सामने आकर कह दिया कि हमारा कांग्रेस से कोई लेना देना नहीं है और ना ही हमने कांग्रेस से आंदोलन करने के लिए कहा है।

प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष एवं एपेक्स बैंक के पूर्व अध्यक्ष अशोक सिंह (Ashok singh) के परिवार की पुश्तैनी जमीन पर बने बालाजी मैरिज गार्डन पर पिछले बुधवार को जिला प्रशासन ने अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई की थी, परिजनों के विरोध के बाद जिला प्रशासन ने उनकी मांग पर सीमांकन कराया। जिसके बाद गार्डन में 5400 वर्ग फुट सरकारी जमीन पर अतिक्रमण मिला जिसे प्रशासन ने गिरा दिया। लेकिन कांग्रेस ने इस मुद्दे को लपक कर सासंद ज्योतिरादित्य सिंधिया के इशारे पर की गई कार्रवाई घोषित करते हुए आपात बैठक बुलाकर आंदोलन की घोषणा कर दी। बैठक में अशोक सिंह भी शामिल हुए। कांग्रेस ने शुक्रवार को शहर में 12 ब्लॉक में सिंधिया के पुतले जलाये और शनिवार को धरना दिया अशोक सिंह इस कार्यक्रम में भी अन्य नेताओं के साथ शामिल हुए। लेकिन आज अशोक सिंह के चाचा एवं बालाजी मैरिज गार्डन के संचालक इंदर सिंह ने मीडिया के सामने आकर कांग्रेस को आईना दिखा दिया। उन्होंने भाजपा नेता पप्पन शर्मा के साथ अपने मैरिज गार्डन में प्रेस कॉंफ़्रेंस लेकर स्पष्ट किया कि मुझे नहीं मालूम कि कांग्रेस मेरे मैरिज गार्डन के नाम पर आंदोलन क्यों कर रही है। मैंने कभी कांग्रेस को आंदोलन करने के लिए नहीं कहा। इंदर सिंह ने कहा मैंने किसी भी कांग्रेस नेता से इस बारे में कुछ नहीं कहा, प्रशासनिक कार्रवाई थी जो हो गई मुझे उसपर कोई आपत्ति नहीं है। इंदर सिंह के इस बयान के बाद एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ ने कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक सिंह से बात करने का प्रयास किया तो उनका फोन आउट ऑफ कवरेज जाता रहा वहीं जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा ने कहा कि कांग्रेस जनता की आवाज गांधी वादी तरीके से उठाती रही है और आगे भी उठाती रहेगी। जहाँ भी कुछ गलत होता दिखाई देगा वहाँ कांग्रेस खड़ी होगी।

उधर बालाजी मैरिज गार्डन संचालक के बयान के बाद भाजपा ने कांग्रेस पर हमला किया है। भाजपा नेता पंकज चतुर्वेदी ने बयान जारी करते हुए कहा कि “डरती कांग्रेस और मरती कांग्रेस को ख्वाबों में भी सिंधिया जी दिखाई देने लगे हैं, ग्वालियर के जिस बालाजी मैरिज गार्डन के अतिक्रमण को तोड़ने के नाम पर पूरी कांग्रेस कुछ दिनों से विधवा विलाप करते हुए सिंधिया जी का पुतला फूंक रही थी उसी गार्डन के संचालक इंदर सिंह ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रशासन की कार्यवाही को सही बता कर कांग्रेसियों के गाल पर करारा तमाचा जड़ा है। अब कांग्रेसियों से एक सवाल अगर मैरिज गार्डन के संचालक ही प्रशासन के साथ खड़े हैं तो, वो क्यो बेगानी शादी में अब्दुला की तरह दीवानी बन रही थी।”

बहरहाल जिस बालाजी मैरिज गार्डन को मुद्दा बनाकर उसे अपनी पार्टी के नेता पर बदले की भावना की कार्रवाई बताने वाली कांग्रेस का ये दांव उल्टा पड़ गया। सिंधिया को घेरने का एक भी मौका नहीं गंवाने वाली कांग्रेस ने इस बार भी बहुत प्रयास किया लेकिन अपनी ही पार्टी के नेता के परिजन और गार्डन संचालक के मीडिया के सामने आने पर उसे मुँह की खानी पड़ी है। अब देखना ये होगा कि भविष्य में कांग्रेस किसी मामले को हाथ में लेने से पहले उसकी तह में जायेगा या सतह पर ही तैरते हुए वैतरणी पार करने का सोचेगी।