क्या 20 मई से पहले संविदा कर्मचारियों की होगी वेतन वृद्धि! एरियर्स के भुगतान सहित नियमित करने की मांग, आंदोलन की चेतावनी

वहीं इस आंदोलन से टीकाकरण, नवजात शिशु, गहन चिकित्सा इकाई सहित कई जरूरी काम प्रभावित हो जाएंगे।

employees news

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में अब संविदा कर्मचारी (contract Employees) सरकार के खिलाफ लामबंद हो रहे हैं दरअसल नियमित कर्मचारियों (regular employees) की वेतन (Salary) का 90% भी वेतन उन्हें नहीं मिल पा रहा है जिसके बाद एनएचएम (NHM) के 30,000 संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी मध्यप्रदेश शासन से मांग कर रहे हैं। वहीं उन्होंने चेतावनी दी है कि यदि उनकी मांग को पूरा नहीं किया तो कर्मचारी हड़ताल पर चले जाएंगे।

बता दे सरकार द्वारा करीब 4 साल पहले राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के 30,000 संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों को नियमित कर्मचारियों की वेतन के बराबर वेतन देने की बात कही गई थी। हालांकि अभी तक इस पर अमल नहीं किया गया। ना ही इन कर्मचारियों को नियमित किया जा रहा है जिसके बाद संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने आंदोलन की चेतावनी दे दी है। वहीं इस आंदोलन से टीकाकरण, नवजात शिशु, गहन चिकित्सा इकाई सहित कई जरूरी काम प्रभावित हो जाएंगे।

Read More : MP : सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, कई जिलों को मिलेगा लाभ, टूरिज्म का होगा विस्तार-विकास

मामले में संघ के प्रदेश अध्यक्ष सुनील यादव का कहना है कि 5 जून 2018 को कैबिनेट में अहम निर्णय लिया गया था। हालांकि इसे अभी तक लागू नहीं किया गया है। इस संबंध में कई बार राज्य शासन के मंत्री और अफसरों से मुलाकात की जा चुकी है लेकिन उनकी मांग को पूरा नहीं किया गया है। संघ ने Arrears के साथ 90 फीसद वेतन देने की मांग की है। इसके साथ ही हटाए गए कर्मचारियों को चरणबद्ध तरीके से वापस लिए जाने सहित एनएचएम के सपोर्ट स्टाफ को आउटसोर्स से हटाकर एनएचएम तहत किए जाने की मांग की जा रही है।

इसीलिए 10-11-12 May में कर्मचारी काली पट्टी बांधकर काम करेंगे। वहीं 13-14 15 मई को कर्मचारी संगठन सीएमएचओ और संगठन जनप्रतिनिधियों के सामने अपनी मांग के लिए ज्ञापन सौंपेंगे जबकि 16 मई को सभी कर्मचारी गुब्बारे उड़ाकर प्रदर्शन करेंगे। 18 मई को सभी संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करेंगे जबकि 19 अप्रैल को ताली बजाकर जिला और ब्लॉक मुख्यालय पर प्रदर्शन करेंगे। वही मांग पूरी नहीं होने के बाद 20 मई से कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे।