अशोकनगर, हितेंद्र बुधौलिया। महिला के साथ अपराध करने पर बनाये गए सख्त कानून का भय भी बदमाशों पर दिखाई नहीं दे रहा।  यही वजह है कि मध्यप्रदेश में महिला अपराधों पर अंकुश लग पाना मुश्किल हो रहा है। प्रदेश में कोई भी दिन ऐसा नहीं जाता जब किसी थाने में महिला अपराध का मामला दर्ज नहीं होता हो, ताजा मामला अशोकनगर जिले का है जहाँ एक ऑटो चालक की छेड़छाड़ से परेशान होकर एक युवती ने खुद को ही आग लगा ली।

अशोकनगर जिला मुख्यालय से करीब 20 किलोमीटर दूर खैजरा नाई गांव में 18 साल की एक युवती ने ककरुआ गांव के एक ऑटो चालक की छेड़छाड़ एवं धमकी से परेशान होकर अपने घर में खुद पर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगाकर आत्मदाह करने की कोशिस की। युवती की हालत गंभीर है। एडिशनल एसपी एवं एसडीओपी  ने अस्पताल  पहुँचकर मामले की जानकारी  ली। युवती की गंभीर हालत को देखते हुए उसे इलाज के लिए भोपाल रैफर किया गया है।

जानकारी के अनुसार खैजरा गांव की युवती ने मंगलवार को दोपहर उस समय खुद को आग लगा ली जब उसकी मां गांव में गई हुई थी। बताया जा रहा है कि पास के गांव ककरुआ का रहने वाला ऑटो चालक इस लड़की को लगातार परेशान कर रहा था। ऑटो चालक उसे फोन करता था और फोन नहीं उठाने पर पूरे परिवार को मार जान से मारने की धमकी देता था । इस कारण परेशान होकर युवती ने अपने आप को खत्म करने का फैसला ले लिया और घर मे रखे कैरोसिन को डाल कर आग लगा ली। घटना की जानकारी लगते ही पडोसी और ग्रामीणों ने दौड़कर आग को बुझाया और गंभीर हालत में युवती को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया बाद में उसकी हालात गंभीर होने पर भोपाल रैफर कर दिया। पुलिस ने ऑटो चालक पर मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।