युवा कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव : बीजेपी नेता ने कहा- ये चुनाव भी कांग्रेस की बंदरबांट प्रवृत्ति की भेंट चढ़ा

मध्यप्रदेश में युवा कांग्रेस अध्यक्ष (Youth Congress President) पद को लेकर हुए चुनाव की घोषणा के बाद राजनीतिक हलचल देखी जा रही है। जिसे लेकर बीजेपी नेता राहुल कोठारी (BJP leader Rahul Kothari) ने कांग्रेस (COngress) पर हमला बोला है, जिसमें उन्होंने कहा कि 'ये भी चुनाव कांग्रेस की बंदरबाट प्रवृत्ति की भेंट चढ़ गई।'

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस (Madhya Pradesh Youth Congress) के अध्यक्ष के लिए सात साल बाद चुनाव कराया गया। जिसके परिणाम की घोषणा आज की गई है। कांग्रेस विधायक कांतिलाल भूरिया (Congress MLA Kantilal Bhuria) के बेटे विक्रांति भूरिया (Vikranti Bhuria) युवा कांग्रेस के नए अध्यक्ष (New president of youth congress) चुने गए है। कांग्रेस द्वारा कराए गए इस चुनाव (Election) को लेकर भी राजनीति देखी जा रही है। इसी कड़ी में बीजेपी नेता राहुल कोठारी ने एक बड़ा बयान दिया है। जिसमें उन्होंने कहा कि ‘ये भी चुनाव कांग्रेस की बंदरबाट प्रवृत्ति की भेंट चढ़ गई।’

बीजेपी नेता ने कांग्रेस पर बोला हमला

बीजेपी नेता राहुल कोठारी (BJP leader Rahul Kothari) ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस में बंदरबाट की प्रवृत्ति चली आ रही है। इसी के चलते लगातार जब तीन दिन वोटिंग (Voting) रखी जाती है, तो तीसरे दिन वोटिंग के नियम बदल दिए जाते है, तीन-तीन घंटे वोटिंग बंद कर दिए जाते है। साथ ही सर्वर को डाउन कर दिया जाता है। राहुल कोठारी ने कहा कि इन सभी घटनाओं से साफ था कि कांग्रेस के नेता पहले से ही कुछ-न-कुछ प्रपंच खेल रहे थे, जो प्रपंच साबित भी हुआ है।

ये भी पढ़े- कहा- कमलनाथ मप्र के भ्रष्टतम मुख्यमंत्री रहे, सीबीडीटी औऱ चुनाव आयोग की रिपोर्ट से साबित हो गया

असली उम्मीदवारों को किया गया दरकिनार

बीजेपी नेता ने युवा कांग्रेस चुनाव को (Youth Congress elections) लेकर कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए आगे कहा कि जिस तरह से कुछ नेता अपने पुत्रों को उपकृत करने के लिए पूरी घटना को रचा है। विक्रांत भूरिया कांग्रेस विधायक कांतिलाल भूरिया के बेटे है, प्रेमचंद गुड्डू के बेटे अजित बोरासी और लाखन सिंह यादव के भतिजे संजय सिंह यादव, इन सभी को उपकृत करते हुए असली उम्मीदवारों को कांग्रेस ने दरकिनार किया गया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि जो प्रथा मूल कांग्रेस में चल रही थी, वहीं प्रथा युवा कांग्रेस में भी चलाया गया है।

युवा कांग्रेस के चुनाव को बताया बड़ा घोटाला

वहीं बीजेपी के राहुल कोठारी ने कहा कि ‘आदिवासी के नाम पर ऐसे उम्मीदवार को दिग्विजय सिंह के द्वारा आगे लाया गया है, ताकि बाद में लगातार उमंग सिंघार जैसे लोग, विजयलक्ष्मी साधौ जैसे लोग, जो लगातार आदिवासियों के नाम पर सक्रिय थे, उन्हें दरकिनार किया जा सकें।’ उन्होंने कहा कि इसके लिए ही कुल मिलाकर युवा कांग्रेस के चुनाव में बड़ा घोटाला हुआ है, जो कांग्रेस के अपने संस्कार में है।

ये भी पढ़े- मनमीत ने कहा- कई बार महाराज के साथ यात्रा की, उन्होंने कभी शरद या विनायक को लेकर कोई शिकायत नहीं की

युवा कांग्रेस के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष

बता दें कि युवा कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव में कांग्रेस विधायक कांतिलाल भूरिया के बेटे डॉ. विक्रांत भूरिया को युवा कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष चुनाव गया है। इससे पहले मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस ऑ(Madhya Pradesh Youth Congress) का चुनाव विवादों में रहा है, जिसमें चुनाव प्रक्रिया की शिकायत राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से भी की गई थी। वहीं इस चुनाव में दूसरे नंबर पर संजय यादव रहे, जो पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव के भतीजे है। संजय यादव को उपाध्यक्ष बनाया गया है। वहीं कांग्रेस नेता प्रेमचंद गुड्डू के बेटे अजीत बोरासी को भी उपाध्यक्ष चुना गया है।