रूस- यूक्रेन युद्ध : युद्ध के दौरान पहनी गई, जेलेंस्की की जैकेट हुई नीलाम, युद्ध में इस्तेमाल होगा पैसा

यूक्रेन और रूस के बीच भीषण युद्ध जारी है। दो महीने से भी अधिक चले इस युद्ध में यूक्रेन ने बहादुरी के साथ रूस का सामना किया है। पश्चिमी देश व्लादिमीर पुतिन के इस कदम की शुरू से आलोचना कर रहे है, लेकिन यूक्रेन जिस तरह से रूस को टक्कर दे रहा है, वह साहस सराहनीय है।

दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। यूक्रेन और रूस के बीच भीषण युद्ध जारी है। दो महीने से भी अधिक चले इस युद्ध में यूक्रेन ने बहादुरी के साथ रूस का सामना किया है। पश्चिमी देश व्लादिमीर पुतिन के इस कदम की शुरू से आलोचना कर रहे है, लेकिन यूक्रेन जिस तरह से रूस को टक्कर दे रहा है, वह साहस सराहनीय है। आर्थिक रूप से कमजोर हो चुके यूक्रेन की मदद के लिए इस दौरान पश्चिमी देश खुलकर सामने आए है, जो ना कि सिर्फ आर्थिक बल्कि युद्ध में बने रहने के लिए हथियार भी प्रदान कर रहे है।

इसके अलावा अलग-अलग फंडरेजर के जरिए भी पैसा इकट्ठा किया जा रहा है। गुरुवार को लंदन में ऐसे ही एक इवेंट में यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लादिमीर जेलेंस्की की एक जैकेट नीलाम की गई है। जेलेंस्की की ये जैकेट रूस के खिलाफ यूक्रेन के विरोध का प्रतीक बनी हुई है, अक्सर युद्ध के बाद से उन्हें लगातार इसी जैकेट में देखा गया है। जेलेंस्की ने इस पर अपने हस्ताक्षर किए थे। नीलामी में इस जैकेट को 90 हजार यूरो लगभग 85 लाख रुपए मिले है।

यह भी पढ़े … अतिक्रमण पर एक्शन, शाहीन बाग पहुंचा बुलडोजर

कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए जुड़े ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इस युद्ध में जेलेंस्की के नेतृत्व की प्रशंसा की। उन्होंने कहा, “मेरे दोस्त व्लादिमिर जेलेंस्की से बात की। वे आधुनिक समय के सबसे अविश्वसनीय नेताओं में से हैं।”

बता दे जेलेंस्की की जैकेट के लिए प्रधानमंत्री ने बड़ी बोली लगाने का अह्वान करते हुए 50 हजार यूरो लगभग 40.5 लाख रुपए की बोली लगाकर नीलामी की शुरुआत की थी।

यूक्रेन के दूतावास ने ट्वीट करते हुए कहा, “इस आयोजन का लक्ष्य यूक्रेन के बहादुरों की कहानी बताना और बहादुरी के समर्थन में धन जुटाना था।”

यह भी पढ़े …घमासान के बाद साइट से लौटा बुलडोजर, सुप्रीम कोर्ट में 2 बजे सुनवाई

नीलामी से जुटाए 7.6 करोड़ रुपए

ब्रेव यूक्रेन फंडरेजर कार्यक्रम में जेलेंस्की की जैकेट के साथ-साथ देश की प्रथम महिला और उनकी पत्नी ओलेना जेलेंस्का के दान किए गए खिलौने और स्वर्गीय फोटोग्राफर मैक्स लेविन की तस्वीरें भी नीलामी के लिए शामिल थीं। इस फंडरेजर कार्यक्रम के जरिए लगभग एक मिलियन डॉलर करीब 7.6 करोड़ रुपए जुटाए गए है। दूतावास की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ज्यादातर धनराशि पश्चिमी यूक्रेन में स्पेशलाइज्ड चिल्ड्रन मेडिकल सेंटर में फिर से उपकरण लगाने में इस्तेमाल होगा।