देश में खोले जाएंगे 10 हजार नए Post Office, आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा डाकघर का काम

देश में खोले जाएंगे 10 हजार नए Post Office, आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा डाकघर का काम

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। भारतीय डाक विभाग अपनी सेवाओं विस्तार करने के लिए इस साल नए डाकघर खोलने को तैयारी कर रहा है। उपभोक्ताओं तक सरकारी सुविधाओं को पहुंचाने के लिए लगातार नए प्रोडक्ट और टेक्नोलॉजी पर काम किया जा रहा है। इस साल 10000 नए पोस्ट ऑफिस देशभर में खोले जाने हैं। पोस्ट ऑफिसों के आधुनिकरण के लिए सरकार ने 5200 करोड रुपए का फंड दिया है। सरकार चाहती है कि डिलीवरी सिस्टम पहले से बेहतर बन जाए और हो सकता है कि आने वाले दिनों में ड्रोन के माध्यम से डिलीवरी की जाने लगे।

हाल ही में गुजरात में ड्रोन के माध्यम से डिलीवरी की गई है। विभाग को सरकार ने आईटी प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने के आदेश दिए हैं जिसकी शुरुआत 2012 में की गई थी। आने वाले समय में लोगों को उनके घरों के दरवाजों पर डाक और अन्य सरकारी सेवाएं मिलने लगेगी।

Must Read- केंद्र पर जमकर बरसे मनीष सिसोदिया, बोले- चाहो तो हजार रेड डाल दो 

कुछ समय बाद ये भी देखा जाएगा कि लोगों को डाकघर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। डाकघर टेक्नोलॉजी के माध्यम से घरों तक सेवाएं लोगों तक पहुंचाएगा। फिलहाल विभाग को 10000 नए डाकघर खोलने की अनुमति दी गई है। सरकार चाहती है कि लोगों को उनके घरों के 5 किलोमीटर के दायरे में बैंकिंग और अन्य सुविधाएं उपलब्ध हो जाए इसलिए यह अनुमति दी गई है। पोस्ट ऑफिस खुलने के बाद देशभर में इनकी संख्या 1.7 लाख हो जाएगी।

बता दें कि डाक विभाग की ओर से कई तरह की सेविंग स्कीम चलाई जाती है। रैकरिंग डिपॉजिट और किसान विकास पत्र जैसी स्कीम पोस्ट ऑफिस ही चलाता है। इसके अलावा सरकार की अन्य योजनाओं का लाभ भी पोस्ट ऑफिस से मिलता है। मंथली सेविंग स्कीम या फिर वरिष्ठ नागरिक बचत खाता योजना और सुकन्या समृद्धि खाता योजना का लाभ पोस्ट ऑफिस से ले सकते हैं।