धराशाई हुआ Cryptocurrency मार्केट, चीन के ऐलान से बाजार में हलचल, Bitcoin में दर्ज हुई भारी गिरावट

कॉइन मार्केट एक्सचेंज की मानें तो बिटकॉइन (Bitcoin) में $2000 सहित एथेरियम 17 फीसद से अधिक लुढ़क गया है। वही Binance Coin 15 फीसद से ज्यादा लुढ़क गया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। क्रिप्टो करेंसी (cryptocurrency) को लेकर चाइना के बड़े ऐलान के बाद क्रिप्टो करेंसी को बड़ा झटका लगा है दरअसल पब्लिक बैंक ऑफ चाइना ने क्रिप्टोकरंसी को लेकर बड़ा ऐलान किया है। इसके साथ ही साथ चीनी सेंट्रल बैंक ने क्रिप्टोकरंसी पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। जिसके बाद दुनिया भर में क्रिप्टो करेंसी मार्केट में भारी गिरावट दर्ज की गई है। कॉइन मार्केट एक्सचेंज की मानें तो बिटकॉइन (Bitcoin) में $2000 सहित एथेरियम 17 फीसद से अधिक लुढ़क गया है। वही Binance Coin 15 फीसद से ज्यादा लुढ़क गया है।

पब्लिक बैंक ऑफ चाइना (PoBC) ने क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबंध लगाते हुए कहा कि इससे जुड़ी सभी गतिविधियां चीन में गैरकानूनी घोषित की जाती है। इसके साथ ही साथ चीन में क्रिप्टो करेंसी से जुड़े कोई भी काम नहीं किए जा सकेंगे। पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना (PBOC) ने कहा कि क्रिप्टोकरेंसी को पारंपरिक मुद्राओं के रूप में बाजारों में प्रसारित नहीं होना चाहिए और विदेशी एक्सचेंजों को इंटरनेट के माध्यम से मुख्य करेंसी के निवेशकों को सेवाएं प्रदान करने से रोक दिया गया है।

चीन की स्टेट काउंसिल या कैबिनेट (cabinet) ने मई में वित्तीय जोखिम को दूर करने के प्रयासों के तहत बिटकॉइन माइनिंग (Bitcoin mining) और ट्रेडिंग पर नकेल कसने की कसम खाई थी। केंद्रीय बैंक के साथ-साथ बैंकिंग, प्रतिभूतियों और विदेशी मुद्रा नियामकों सहित दस चीनी सरकारी एजेंसियों ने एक संयुक्त बयान में कहा कि वे क्रिप्टोकरेंसी के सट्टा व्यापार पर “उच्च दबाव” की कार्रवाई को बनाए रखने के लिए मिलकर काम करेंगे।

धराशाई हुआ Cryptocurrency मार्केट, चीन के ऐलान से बाजार में हलचल, Bitcoin में दर्ज हुई भारी गिरावट

PBOC ने वित्तीय संस्थानों, भुगतान कंपनियों और इंटरनेट फर्मों को Cryptocurrency ट्रेडिंग की सुविधा से भी रोक दिया। पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने अपनी वेबसाइट पर एक बयान में कहा लोगों की संपत्तियों की सुरक्षा और आर्थिक, वित्तीय और सामाजिक व्यवस्था बनाए रखने के लिए सरकार आभासी मुद्रा अटकलों, और संबंधित वित्तीय गतिविधियों और दुर्व्यवहार पर सख्ती से रोक लगाएगी।

Read More: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जन समस्याओं को लेकर नगर पंचायत का किया घेराव, जताया विरोध

राष्ट्रीय विकास और सुधार आयोग ने कहा कि वह Cryptocurrency खनन पर एक राष्ट्रव्यापी कार्रवाई शुरू कर रहा है। पिछले प्रतिबंध स्थानीय सरकारों द्वारा जारी किए गए हैं। वहीँ Bitcoin, दुनिया की सबसे बड़ी Cryptocurrency, PoBC की घोषणा के बाद 5% तक गिर गई। जो पहले लगभग 1 प्रतिशत नीचे थी। बिटकॉइन और अन्य आभासी मुद्राओं के व्यापार में “अवैध” गतिविधि को जड़ से खत्म करने और क्रिप्टोक्यूरेंसी खनन पर देशव्यापी प्रतिबंध जारी कर दी।

वहीँ भारत में क्रिप्टो करेंसी पर बोलते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीथारमन (Nirmala sitharaman)  ने कहा था कि दुनिया भर में क्रिप्टोकरेंसी की बढ़ती पकड़ और सुझावों के बीच भारत अपनी डिजिटल मुद्रा विकसित कर सकता है, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इस तरह के निर्णय पर विचार करना होगा।

वित्त मंत्री ने कहा कि यह साक्षरता या समझ का सवाल नहीं है – यह भी एक सवाल है कि क्रिप्टो करेंसी किस हद तक एक पारदर्शी मुद्रा है; क्या यह सभी के लिए एक मुद्रा उपलब्ध होने जा रही है? एल सावाडोर एक असाधारण जगह हो सकती है, जहां उन्होंने क्रिप्टो पर कुछ प्रयोग करने की कोशिश की।

वित्त मंत्री ने कहा कि भारत में क्रिप्टोकरेंसी के मुद्दे पर काफी परामर्श किया गया है, साथ ही भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के विचार भी लिए गए हैं। यह एक ऐसा युग नहीं है जहां आप कह सकते हैं कि मुझे इस बात की परवाह नहीं है कि क्या हो रहा है, या हम कुछ भी नहीं करना चाहते हैं। साथ ही, क्या हम अभी भी एल सावाडोर के रास्ते जाने के लिए तैयार हैं? हमें यह सुनिश्चित करना होगा क्यूंकि भविष्य में इस चीज को बंद नहीं किया जा सकता है।