पेट्रोल-डीजल की किल्लत से MP में बुरे हुए हालात, ईंधन के लिए इधर-उधर भटक रहे लोग, इन शहरों में बढ़े दाम

जहां मध्यप्रदेश के कुछ शहरों में आय दिन ईंधन के रेट बदलते है, वही दूसरी ओर भोपाल में पेट्रोल और डीजल की किल्लत देखी जा रही है। किल्लत का कारण है तेल कंपनियों द्वारा तेल की आपूर्ति सही से करना करना।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। जनता को राहत देने के लिए केंद्र सरकार ने एक्साइज़ ड्यूटी में कटौती की थी, लेकिन बावजूद इसके पेट्रोल और डीजल ( Petrol and diesel) की समस्या खत्म नहीं हुई। जहां मध्यप्रदेश के कुछ शहरों में आय दिन ईंधन के रेट बदलते है, वही दूसरी ओर भोपाल में पेट्रोल और डीजल की किल्लत देखी जा रही है। किल्लत का कारण है तेल कंपनियों द्वारा तेल की आपूर्ति सही से करना करना। पेट्रोल पंप डीलरों का कहना है की तेल कंपनी पूरे भुगतान के बाद भी तेल की आपूर्ति नहीं कर रही है, वो सिर्फ 50% तेल आपूर्ति कर रही है। इस कारण भोपाल के 152 पेट्रोल पंप में 12 सोमवार को सूखे पाए गए।

यह भी पढ़े… Agnipath Scheme: रक्षा मंत्री ने किया “अग्निपथ योजना” का ऐलान, 4 साल के लिए युवाओं की होगी सेना में भर्ती

पेट्रोल की इस किल्लत के कारण लोगों को यहाँ से वहाँ भटकना पड़ रहा है। तो वहीं दूसरी तरफ नगर निकाय चुनाव और सोयाबीन की बुवाई है, जिससे ईंधन की खपत बढ़ेगी। इस मामले में तेल कम्पनियों का कहना है उन्हें डीजल में 23 रुपये प्रति लीटर और पेट्रोल में 16 रुपये प्रति लीटर का घाटा हो रहा है। तो वहीं आज मध्यप्रदेश के कुछ शहरों में पेट्रोल की कीमत में उछाल देखा गया। इस लिस्ट में बड़वानी, भिंड, छतरपुर, दतिया, देवास, हरदा, होशंगाबाद, इंदौर, जबलपुर, खरगोन, मंडला, रायसेन, राजगढ़, सागर, शहडोल और विदिशा शामिल हैं।

यह भी पढ़े… RBI Admit Card 2022 : उम्मीदवारों का इंतजार हुआ खत्म, एडमिट कार्ड जारी, यहां करें डाउनलोड

आज प्रदेश में पेट्रोल की कीमत 109.63 रुपये प्रति लीटर है, तो वहीं डीजल 94.83 रुपये प्रति लीटर में बिक रहा है। अनुपुर, रीवा और शहडोल में पेट्रोल की कीमत 111 रुपये प्रति लीटर से भी अधिक है। उज्जैन, सिंगरौली, शाजापुर, सीहोर, रतलाम, नरसिंहपुर, मुरैना, झाबुआ, जबलपुर, ग्वालियर, देवास, दमोह, भोपाल और अशोकनगर में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 108 रुपये के आस-पास है।