नवीकरणीय ऊर्जा के लिए तीन रुपए यूनिट दर तय हो

-unit-rate-for-renewable-energy

नई दिल्ली। नेशनल सोलर एनर्जी फेडरेशन आफ इंडिया एनएसईएफआई ने सरकार से सार्वजनिक क्षेत्र की एनटीपीसी और सोलर एनर्जी कॉरपोरेशन की विभिन्न नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं की नीलामी के लिये शुल्क सीमा 3 रुपए यूनिट तय करने का आग्रह किया है। इस सीमा से अक्षय ऊर्जा के विभिन्न स्रोतों से उत्पादित बिजली के लिये शुल्क दरें 3 रुपए यूनिट से कम रखने में मदद मिलेगी। एनएसईएफआई के अनुसार इससे देश में बिजली के लिये अलग-अलग व्यवहार से निजात मिलेगी तथा एक देश, एक ग्रिड, एक नवीकरणीयए एक कीमत प्राप्त करने में मदद मिलेगी। हाल में बिजली और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह को हाल में लिखे पत्र में एनएसईएफआई ने कहा, हम एक देश, एक ग्रिड, एक नवीकरणीय, एक कीमत धारणा का प्रस्ताव करते हैं। इसका मतलब है कि एसईसीआई या एनटीपीसी की विभिन्न निविदा प्रक्रियाओं के जरिये खोजी जाने वाली कीमत एक साथ रखी जाएगी और राज्यों को एक कीमत की पेशकश की जाएगी। संगठन ने आगे कहा, इससे बिजली के साथ विभिन्न व्यवहार की समस्या का समाधान होगा।