CBSE ने स्कूलों को दिए दिशा-निर्देश, 31 अगस्त तक पूरा करें यह काम, 10वीं-12वीं बोर्ड छात्रों को मिलेगा लाभ

छात्र परीक्षा उपनियमों के प्रावधानों के अनुसार कक्षा 10 और 12 के लिए बोर्ड की परीक्षा में बैठने के पात्र हैं।

CBSE Board 10th-12th Term-1 results

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। सीबीएसई (CBSE) के छात्रों के लिए बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (central board of secondary education) द्वारा सभी संबंध के स्कूलों को दिशा निर्देश जारी किए गए। जिसमें कहा गया है कि 2022-23 सत्र के लिए कक्षा 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के उम्मीदवारों की सूची जल्द से जल्द जमा करवाई जाए। सीबीएसई ने अधिसूचना (notification) जारी करते हुए कहा है कि एलओसी (LOC) के माध्यम से ही उम्मीदवारों के रिजल्ट के डाटा संग्रहण होंगे। इसके लिए प्रक्रिया 16 जून से शुरू की जाएगी। स्कूलों को सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट cbse.gov.in पर उपलब्ध कराए गए परीक्षा लिंक के माध्यम से एलओसी को अपडेट करना होगा।

वही जारी अधिसूचना के मुताबिक बिना लेट फाइन के एलओसी जमा करने की अंतिम तारीख 31 अगस्त रखी गई है। इतना ही नहीं स्कूलों को दिशा निर्देश जारी करते हुए कहा गया है कि प्रायोजित छात्र केवल अपने नियमित और वास्तविक छात्र के नाम भेजे। बोर्ड ने स्कूलों से छात्रों की सूची जमा करने के निर्देश देते हुए कहा है कि किसी अनाधिकृत और संबंधित स्कूलों से नहीं और नियमित रूप से अपने स्कूलों के कक्षा में भाग ले रहे हैं। छात्रों की सूची अपलोड की जाए।

Read More : MP में दिखेगा मानसून और प्री-मानसून का असर, आपदा से निपटने निगम की पूरी तैयारी, आमजन को मिलेगा लाभ

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने अपने संबद्ध स्कूलों के लिए कक्षा 10 और 12 परीक्षाओं 2022-23 के लिए उम्मीदवारों की सूची (LOC) जमा करने के संबंध में एक परिपत्र जारी किया है।सीबीएसई ने संस्थानों के प्रमुखों को लिखे पत्र में जानकारी दी है कि LOC के माध्यम से योग्य उम्मीदवारों के डेटा जमा करने की गतिविधि 16 जून, 2022 से शुरू होगी।

CBSE ने स्पष्ट रूप से स्कूलों से उम्मीदवारों के Data समय पर जमा करने और डेटा की सही प्रविष्टि सुनिश्चित करने के लिए कहा है। सीबीएसई सर्कुलर में कहा गया है कि केवल उन छात्रों को सत्र 2022-23 में कक्षा 10 और 12 की बोर्ड परीक्षा में बैठने की अनुमति दी जाएगी, जिनके नाम LOC जमा करने की ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से जमा किए जाएंगे। CBSE के पास स्कूल के प्रधानाध्यापक हैं, जो LOC को पूरा करने की जिम्मेदारी सौंपे गए व्यक्तियों / शिक्षकों के साथ बैठक बुलाते हैं।

इसके अलावा, संबंधित स्कूल के प्रधानाध्यापकों को निम्नलिखित सुनिश्चित करना चाहिए:

  • प्रायोजित छात्र अपने स्वयं के नियमित और वास्तविक छात्र ही होते हैं।
  • कोई भी वास्तविक छात्रों का नाम अप्रायोजित नहीं छोड़ा गया है।
  • छात्र किसी भी अनधिकृत / असंबद्ध स्कूल से नहीं हैं।
  • छात्र अपने-अपने स्कूलों में नियमित रूप से कक्षाओं में भाग ले रहे हैं।
  • छात्र सीबीएसई के अलावा किसी अन्य स्कूल शिक्षा बोर्ड में पंजीकृत नहीं हैं।
  • छात्र परीक्षा उपनियमों के प्रावधानों के अनुसार कक्षा 10 और 12 के लिए बोर्ड की परीक्षा में बैठने के पात्र हैं।
  • 12वीं कक्षा के छात्रों के मामले में, यह विशेष रूप से सुनिश्चित किया जाए कि छात्रों ने अपनी कक्षा 10 की परीक्षा मान्यता प्राप्त स्कूल शिक्षा बोर्ड से ही उत्तीर्ण की हो।