MP School : स्कूल शिक्षा विभाग की बड़ी तैयारी, 1 से 10वीं तक के छात्रों को मिलेगा लाभ, DPI ने जारी किया आदेश

MP School : मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा नई तैयारी शुरू की गई है। जिसका लाभ स्कूली बच्चे को मिलेगा। शासकीय स्कूल में 19 से 24 दिसंबर के बीच किसी एक दिन वीर बाल दिवस का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा आदेश जारी कर दिए गए हैं।

जारी आदेश में कहा गया है कि स्कूल में हर साल बाल दिवस मनाया जाता है लेकिन इस वर्ष वीर बाल दिवस मनाया जाएगा। स्कूलों को तैयारियां करने के निर्देश दिए गए हैं। शासकीय स्कूल में आजादी के अमृत महोत्सव पर वीर बाल दिवस का आयोजन होना है। दरअसल के दसवें गुरु गुरु गोविंद सिंह के छोटे पुत्र जोरावर सिंह और फतेह सिंह द्वारा दिए गए बलिदान पर वीर बाल दिवस का आयोजन किया जाना है। वीर बाल दिवस हर साल 26 दिसंबर को मनाया जाता है।

वीर बाल दिवस का आयोजन

हालांकि 25 दिसंबर से सभी शासकीय स्कूल में शीतकालीन अवकाश है। जिसके कारण प्रदेश के सभी स्कूलों को निर्देश जारी करते हुए लोक शिक्षण संचालनालय ने कहा है कि 19 से 24 दिसंबर के बीच किसी भी एक दिन स्कूल में वीर बाल दिवस का आयोजन किया जाए।

विषय के जानकार को किया जाए आमंत्रित

जारी आदेश में कहा गया कि प्रार्थना सभा में गुरु गोविंद सिंह के छोटे पुत्र द्वारा दिए गए बलिदान के संबंध में छात्रों को जानकारी दी जाएगी। इसके साथ ही स्थानीय स्तर पर इस विषय के जानकार व्यक्तियों को स्कूल में आमंत्रित कर उनका संबोधन कराया जाए।

यह है इतिहास

बता दें कि गुरु गोविंद सिंह के छोटे पुत्र जोरावर सिंह और फतेह सिंह द्वारा 9 और 6 साल की उम्र में सिख पद की गरिमा और सम्मान की रक्षा के लिए 26 दिसंबर 1705 को किए गए उनके अप्रतिम बलिदान के सम्मान में वीर बाल दिवस का आयोजन होना चाहिए।