CG Weather: कई सिस्टम सक्रिय, 1 दर्जन से ज्यादा जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, वज्रपात की आशंका

आज प्रदेश के कबीरधाम, बेमेतरा, बलौदाबाजार,मुंगेली व महासमुद तथा इससे लगे जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ मध्यम से भारी वर्षा तथा वज्रपात होने की संभावना है।

cg weather

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। मानसून द्रोणिका के असर और एक चक्रीय चक्रवाती घेरे के सक्रिय होने के चलते छत्तीसगढ़ के 1 दर्जन से ज्यादा जिलों में कहीं भारी बारिश तो कही हल्की से मध्यम (CG Weather) वर्षा की संभावना है। छत्तीसगढ़ मौसम विभाग (CG Weather Department) ने आज आज सोमवार 25 जुलाई को बेमेतरा, बलौदाबाजार,महासमुद समेत एक दर्जन से ज्यादा जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। वही कई जिलों में वज्रपात की आशंका है। मौसम और बाढ़ के हालातों को देखते हुए राज्य सरकार ने जिला कलेक्टरों और पुलिसकर्मियों को अलर्ट रहने को कहा है।

यह भी पढ़े.. हाई कोर्ट का बड़ा फैसला, 4 हफ्तों में वेतन और अन्य भत्ते का भुगतान का आदेश, कर्मचारी को जल्द मिलेगा लाभ

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Forecast) के अनुसार, द्रोणिका का असर दक्षिण-पश्चिम राजस्थान, जैसलमेर, कोटा, गुना, सतना, अंबिकापुर, बालासोर, और उसके बाद दक्षिण पूर्व की ओर पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी तक 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है।एक चक्रीय चक्रवाती घेरा दक्षिण पूर्व मध्य प्रदेश के ऊपर 5.8 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। इसके असर से एक दर्जन जिलों में भारी बारिश और बिजली गिरने के चेतावनी जारी की गई है।

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Alert) के अनुसार, आज 25 जुलाई को अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ बौछार की संभावना है। वही प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ भारी वर्षा भी होने की संभावना है।आज प्रदेश के कबीरधाम, बेमेतरा, बलौदाबाजार,मुंगेली व महासमुद तथा इससे लगे जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ मध्यम से भारी वर्षा तथा वज्रपात होने की संभावना है।बिलासपुर संभाग में 26 जुलाई तक मौसम के ऐसे ही बने रहने का अनुमान है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों को फिर मिलेगी खुशखबरी! सैलरी में होगा 50000 से 95000 तक इजाफा, जानें 8वें वेतन आयोग पर अपडेट

बता दे कि राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक एक जून 2022 से अब तक राज्य में 507.3 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज 24 जुलाई तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार बीजापुर जिले में सर्वाधिक 1334.6 मिमी और बलरामपुर जिले में सबसे कम 169.0 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।

सीएम ने दिए ये निर्देश

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने चक्रवाती बारिश के खतरे को देखते हुए सभी जिला कलेक्टरों, पुलिस अधीक्षकों और नगरीय निकायों को सतर्क रहने के साथ प्रभावित क्षेत्रों में जलभराव और बाढ़ जैसी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए आपदा प्रबंधन, राज्य आपदा मोचन बल सहित प्रभावित जिलों के जिला पुलिस बल, होमगार्ड, राजस्व विभाग, स्वास्थ्य विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, विद्युत विभाग, लोक निर्माण, खाद्य विभाग, नगरीय निकायों को अलर्ट रहने को कहा है।निचले और संभावित प्रभावित इलाकों में आपदा प्रबंधन दल को मुस्तैद रखने के निर्देश दिए हैं।

24 जुलाई तक जिलेवार बारिश का रिकॉर्ड

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सरगुजा में 180.5 मिमी, सूरजपुर में 257.3 मिमी, जशपुर में 223.2 मिमी, कोरिया में 292.7 मिमी, रायपुर में 345.8 मिमी, बलौदाबाजार में 473.6 मिमी, गरियाबंद में 580.0 मिमी, महासमुंद में 513.1 मिमी, धमतरी में 629.7 मिमी, बिलासपुर में 532.1 मिमी, मुंगेली में 545.6 मिमी, रायगढ़ में 441.2 मिमी, जांजगीर-चांपा में 599.7 मिमी, कोरबा में 382.4 मिमी, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 505.5 मिमी, दुर्ग में 501.8 मिमी, कबीरधाम में 468.9 मिमी, राजनांदगांव में 553.2 मिमी, बालोद में 649.9 मिमी, बेमेतरा में 361.4 मिमी, बस्तर में 664.6 मिमी, कोण्डागांव में 596.6 मिमी, कांकेर में 695.9 मिमी, नारायणपुर में 524.7 मिमी, दंतेवाड़ा में 683.3 मिमी और सुकमा में 497.8 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई।