CG Weather: चक्रीय चक्रवाती घेरा सक्रिय, 1 दर्जन से ज्यादा जिलों में गरज चमक के साथ बारिश की चेतावनी, अगस्त में फिर बदलेगा मौसम

आज रविवार 31 जुलाई को कुछ स्थानों पर गरज चमक के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।

cg weather

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। 3-4 दिन में छत्तीसगढ़ का मौसम एक बार फिर बदलने वाला है। जल्द एक बड़ा सिस्टम एक्टिव होने से छत्तीसगढ़ में फिर से झमाझम बारिश का दौर शुरू होगा। छत्तीसगढ़ मौसम विभाग (CG Weather Department) ने मानसून द्रोणिका और एक चक्रीय चक्रवाती घेरे के सक्रिय होने से आज रविवार 31 जुलाई को प्रदेशभर में बादल छाने के साथ कहीं कहीं गरज चमक के साथ बारिश की संभावना जताई है।बिलासपुर संभाग में वज्रपात के साथ कई स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।

यह भी पढ़े.. MP Weather: 4 दिन बाद बदलेगा मौसम, 8 जिलों समेत इन संभागों में भारी बारिश का अलर्ट, बिजली गिरने-चमकने की भी चेतावनी

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Forecast) के अनुसार, मानसून द्रोणीका माध्य समुद्र तल पर फिरोजपुर, रोहतक, मेरठ, गोरखपुर, मुजफ्फरपुर, बालूरघाट, बांग्लादेश के मध्य भाग, अगरतला और उसके बाद पूर्व की ओर उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी तक स्थित है।एक ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा उत्तर-पूर्व उत्तर प्रदेश और उसके आसपास 0.9 किलोमीटर से 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। एक चक्रीय चक्रवाती घेरा दक्षिण-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर 0.9 किलोमीटर से 3.1 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है।

यह भी पढ़े.. CG Weather: जल्द बदलेगा मौसम, आज इन जिलों में बारिश के आसार, जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Alert) के अनुसार, आज रविवार 31 जुलाई को कुछ स्थानों पर गरज चमक के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। बिलासपुर संभाग समेत प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ वज्रपात होने के आसार है। मानसून द्रोणिका के सक्रिय होने से बिलासपुर संभाग के एक दो हिस्सों में अचानक बारिश हो सकती है।रविवार को प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है और कुछ क्षेत्रों में आकाशीय बिजली भी गिरेगी।

जानें किस जिले में ज्यादा, किसमे कम हुई बारिश

राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक एक जून 2022 से अब तक राज्य में 557.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज 30 जुलाई तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार बीजापुर जिले में सर्वाधिक 1427.7 मिमी और बलरामपुर जिले में सबसे कम 200.0 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।पिछले वर्ष-2021 से तुलना की जाए तो इस बारिश मामूली रूप से गिरावट है। प्रदेश में अब तक केवल बीजापुर जिले में अति भारी वर्षा हुई है। 9 जिलों में ज्यादा, 9 में सामान्य, पांच जिलों में कम और तीन जिलों में अति कम वर्षा दर्ज की गई है।

30 जुलाई तक बारिश का रिकॉर्ड

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सरगुजा में 222.7 मिमी, सूरजपुर में 294.0 मिमी, जशपुर में 281.5 मिमी, कोरिया में 325.3 मिमी, रायपुर में 370.4 मिमी, बलौदाबाजार में 539.5 मिमी, गरियाबंद में 640.4 मिमी, महासमुंद में 559.6 मिमी, धमतरी में 667.2 मिमी, बिलासपुर में 601.9 मिमी, मुंगेली में 619.1 मिमी, रायगढ़ में 522.9 मिमी, जांजगीर-चांपा में 664.4 मिमी, कोरबा में 432.7 मिमी, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 535.2 मिमी, दुर्ग में 506.8 मिमी, कबीरधाम में 544.5 मिमी, राजनांदगांव में 593.2 मिमी, बालोद में 682.9 मिमी, बेमेतरा में 385.4 मिमी, बस्तर में 707.8 मिमी, कोण्डागांव में 641.5 मिमी, कांकेर में 768.2 मिमी, नारायणपुर में 589.5 मिमी, दंतेवाड़ा में 744.0 मिमी और सुकमा में 544.8 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई।