CG Weather: सोमवार से फिर बदलेगा मौसम, इन जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश का अलर्ट, जानें अपने शहर का हाल

4 जुलाई को उत्तरी ओडिशा के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र निर्मित हो रहा है। इनके प्रभाव से प्रदेश में नमी बढ़ने पर बारिश की गतिविधियां तेज हो सकती हैं।

CG weather today

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। सोमवार 4 जुलाई से प्रदेश में एक बार फिर झमाझम बारिश का दौर शुरू होने वाला है। 4 जुलाई को उत्तरी ओडिशा के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र निर्मित हो रहा है। इनके प्रभाव से प्रदेश में नमी बढ़ने पर बारिश की गतिविधियां तेज हो सकती हैं। छत्तीसगढ़ मौसम विभाग (CG Weather Department) ने आज 2 जुलाई शनिवार को प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में मध्यम से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है वही कुछ क्षेत्रों में बिजली गिरने और चमकने की चेतावनी जारी की गई है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, सेवानिवृत्ति को लेकर जारी हुआ ये आदेश, ये होंगे मानक, देनी होगी रिपोर्ट

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Forecast) के अनुसार, पूर्वी उत्तरप्रदेश से पश्चिम मध्य अरब सागर तक एक द्रोणिका बनी हुई है। उत्तरी राजस्थान और आसपास ऊपरी हवा में चक्रवात है।जिसके कारण बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से नमी आ रही है, लेकिन कोई मजबूत और प्रभावी सिस्टम नहीं होने की वजह से मानसूनी गतिविधियां कमजोर है। लेकिन सोमवार 4 जुलाई से उत्तर तटीय ओडिशा व उससे लगे आसपास के क्षेत्रों में निम्न दाब का क्षेत्र बन रहा है। प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में आज शनिवार को हल्की से मध्यम बारिश के आसार है। वही कुछ क्षेत्रों में भारी वर्षा भी हो सकती है।जबकि शेष जगहों पर गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Update) के अनुसार, एक पूर्व-पश्चिम द्रोणिका उत्तर-पश्चिम राजस्थान से उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी ती 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। एक निम्न दाब का क्षेत्र उत्तर तटीय ओडिशा और उससे लगे क्षेत्र में चार जुलाई को बनने की संभावना है। दो जुलाई को अनेक स्थानों पर मध्यम या गरज चमक के साथ बौछार पड़ने की संभावना है, जिसके प्रभाव से अगले हफ्ते से भारी वर्षा के आसार है। प्रदेश भर में सोमवार से लगातार बारिश शुरू हो सकती है।आज शनिवार को भी कुछ क्षेत्रों में आकाशीय बिजली गिरने व वर्षा की आशंका है।

यह भी पढ़े.. हजारों पेंशनरों को बड़ी राहत, अब 31 जुलाई तक मिलेगा लाभ, जल्द खाते में आएगी 3 महीने की पेंशन

बता दे कि राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक एक जून 2022 से अब तक राज्य में 148.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज दो जुलाई तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिलें में सर्वाधिक 243.3 मिमी और जशपुर जिले में सबसे कम 81.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।

1 जून से 1 जुलाई तक बारिश का रिकॉर्ड

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सरगुजा में 88.8 मिमी, सूरजपुर में 128.1 मिमी, बलरामपुर में 91.6 मिमी, कोरिया में 142.7 मिमी, रायपुर में 93.0 मिमी, बलौदाबाजार में 160.9 मिमी, गरियाबंद में 181.7 मिमी, महासमुंद में 138.4 मिमी, धमतरी में 132.6 मिमी, बिलासपुर में 129.6 मिमी, मुंगेली में 203.0 मिमी, रायगढ़ में 148.8 मिमी, जांजगीर-चांपा में 228.1 मिमी, कोरबा में 164.0 मिमी, दुर्ग में 102.8 मिमी, कबीरधाम में 142.8 मिमी, राजनांदगांव में 144.6 मिमी, बालोद में 204.8 मिमी, बेमेतरा में 132.3 मिमी, बस्तर में 162.8 मिमी, कोण्डागांव में 149.5 मिमी, कांकेर में 133.8 मिमी, नारायणपुर में 146.3 मिमी, दंतेवाड़ा में 133.3 मिमी, सुकमा में 133.0 मिमी और बीजापुर में 219.2 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई।