CG Weather: शनिवार से फिर बदलेगा मौसम, आज कई जिलों में बारिश के आसार, मानसून की विदाई जल्द, जानें विभाग का पूर्वानुमान

राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज 13 अक्टूबर तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार बीजापुर जिले में सर्वाधिक 2434.2 मिमी और सरगुजा में जिले में सबसे कम 627.0 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।

mp weather Today

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी के कारण राज्य में बारिश का सिलसिला जारी है, लेकिन 15 अक्टूबर के बाद एक बार फिर छत्तीसगढ़ के मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा । छग मौसम विभाग (CG Meteorological Department) की मानें तो आज शुक्रवार 14 अक्टूबर 2022 को प्रदेश कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है।वही कई जगहों पर वज्रपात की संभावना है।13 अक्टूबर की सुबह तक प्रदेश में 56 मिलीमीटर बरसात हो चुकी है। यह सामान्य से 64% ज्यादा है।

यह भी पढ़े..कर्मचारियों की पुरानी पेंशन योजना पर ताजा अपडेट, महासंघ का बड़ा फैसला, सरकार को दी ये चेतावनी

छग मौसम विभाग (CG weather forecast) के मुताबिक,बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी की वजह से आज 14 अक्टूबर को कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने अथवा गरज चमक के साथ बौछार की संभावना है। एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ वज्रपात भी हो सकता है।13, 15, 16 और 17 अक्टूबर को प्रदेश का मौसम साफ रहेगा और बारिश के आसार कम है। शुक्रवार 14 अक्टूबर को प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में बारिश के संकेत है। 14-15 अक्टूबर के बाद नमी में कमी आएगी ।

छग मौसम विभाग (CG weather Update) के मुताबिक, मानसून की विदाई रेखा अभी भी उत्तरकाशी, नजीबाबाद, आगरा, ग्वालियर, रतलाम और भरूच तक स्थिर है, ऐसे में 3-4 दिनों बाद मानसून की विदाई तय मानी जा रही है। 15 अक्टूबर शनिवार के बाद से प्रदेश में बारिश के आसार नहीं है। हालांकि नम हवाओं के चलते मौसम में ठंडकता बनी रहेगी। 20-25 अक्टूबर या फिर अक्टूबर के आखिर सप्ताह में ठंड की दस्तक दे सकती है।18 अक्टूबर से आसमान बिल्कुल साफ नजर आएगा।

यह भी पढ़े..कर्मचारियों-अधिकारियों के लिए खुशखबरी, मिलेगा संशोधित वेतनमान का एरियर, बोनस का भी लाभ, किस्त जारी

राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक एक जून 2022 से अब तक राज्य में 1297.0 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज 13 अक्टूबर तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार बीजापुर जिले में सर्वाधिक 2434.2 मिमी और सरगुजा में जिले में सबसे कम 627.0 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।

मानसून की विदाई जल्द

सामान्य तौर पर छत्तीसगढ़ में मानसून का आगमन 10 जून और 11 अक्टूबर तक विदाई होती है, वही रायपुर में मानसून की विदाई की सामान्य तिथि 9 अक्टूबर मानी जाती है लेकिन राज्य में अबतक बारिश का दौर चल रहा है।इससे पहले 2018 में 5 अक्टूबर, 2019 में 10 अक्टूबर और 2011 में 24 अक्टूबर को मानसून की वापसी हुई थी। शेष 8 वर्षों में मानसून की वापसी हमेशा 11 अक्टूबर के बाद ही हुई है, हालांकि 2011 में तो 24 अक्टूबर तक मानसून बना हुआ था और अब 2022 की बात करें तो 20 अक्टूबर तक मानसून के बने रहने के आसार है।

अब तक 1297.0 मिमी औसत वर्षा दर्ज

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सूरजपुर में 1060.6 मिमी, बलरामपुर में 1096.6 मिमी, जशपुर में 1100.3 मिमी, कोरिया में 916.5 मिमी, रायपुर में 950.2 मिमी, बलौदाबाजार में 1197.7 मिमी, गरियाबंद में 1297.3 मिमी, महासमुंद में 1173.4 मिमी, धमतरी में 1354.4 मिमी, बिलासपुर में 1487.6 मिमी, मुंगेली में 1350.1 मिमी, रायगढ़ में 1242.2 मिमी, जांजगीर-चांपा में 1397.2 मिमी, कोरबा में 1254.5 मिमी, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 1114.3 मिमी, दुर्ग में 1015.9 मिमी, कबीरधाम में 1176.0 मिमी, राजनांदगांव में 1255.9 मिमी, बालोद में 1331.9 मिमी, बेमेतरा में 739.3 मिमी, बस्तर में 1862.1 मिमी, कोण्डागांव में 1313.2 मिमी, कांकेर में 1595.6 मिमी, नारायणपुर में 1514.0 मिमी, दंतेवाड़ा में 1838.1 मिमी और सुकमा में 1620.0 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई।