कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, अब मिलेगा 22% महंगाई भत्ता, मई से 8000 तक बढ़ेगी सैलरी

वर्तमान में राज्य के कर्मचारियों को 17 प्रतिशत महंगाई भत्ता प्राप्त हो रहा है, जो अब बढ़कर 22 प्रतिशत हो जाएगा।

LIC POLICY

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट।7th Pay Commission. छत्तीसगढ़ के सरकारी कर्मचारियों  (Chhattisgarh Government Employees) को बड़ी सौगात मिली है। राज्य की भूपेश बघेल सरकार ने सरकारी कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (Dearness Allowance) एक बार फिर 5% बढ़ा दिया है, जिसके बाद कर्मचारियों का कुल भत्ता 17 प्रतिशत से बढ़कर 22 प्रतिशत हो गया है, इससे करीब 3 लाख कर्मचारियों को लाभ मिलेगा।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए खुशखबरी! AICPI Index में बड़ा उछाल, फिर 4% तक बढ़ सकता है DA

यह बढोतरी 1 मई 2022 से लागू होगी। वर्तमान में राज्य के कर्मचारियों को 17 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिल रहा था अब यह बढ़कर 22 प्रतिशत हो गया है। चुंकी महंगाई भत्ता बेसिक सैलरी के आधार दिया जाता है, ऐसे में कर्मचारियों की सैलरी में 2500 से 8000 तक की बढोतरी होगी। इसमें शहरी, अर्ध शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में नौकरी करने वाले सरकारी कर्मचारियों को अलग अलग बेसिक पे के आधार पर डीए दिया जाएगा।

दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने 1 मई श्रम दिवस के अवसर पर शासकीय कर्मचारियों को 5 प्रतिशत महंगाई भत्ता का तोहफा दिया है। उन्होंने कर्मचारियों के हित में लिए गए इस फैसले की जानकारी ट्वीट कर दी है। शासकीय कर्मचारियों को महंगाई भत्ते की यह दर एक मई से ही लागू होगी। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में राज्य के कर्मचारियों को 17 प्रतिशत महंगाई भत्ता प्राप्त हो रहा है, जो अब बढ़कर 22 प्रतिशत हो जाएगा।

यह भी पढ़े.. खुशखबरी!केन्द्र का मध्य प्रदेश को एक और बड़ा तोहफा, किसानों को ऐसे मिलेगा लाभ

छत्तीसगढ़ सरकार के इस फैसले पर छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन ने नाराजगी जताई है। उनका कहना है कि मुख्यमंत्री के द्वारा 5% मंहगाई भत्ता किस आधार पर दिया गया है यह समझ से परे है, 5 % DA की घोषणा आधारहीन है,,विदित हो कि जनवरी 2020 से 4% एवं जुलाई 2020 से 3% महंगाई भत्ता लंबित है,इस दौरान कर्मचारियो को 2 से 3 लाख रुपये का कम वेतन मिला है। अगर दो किश्त मिलाकर महंगाई भत्ता भी देते तो 7% होता, ऐसे में कर्मचारियों के साथ यह सबसे बड़ा कुठाराघात है।इधर कर्मचारियों द्वारा लगातार केन्द्र के समान 34% डीए की मांग की जा रही है।

महंगाई भत्ता

  • जनवरी 2020 से 4 %
  • जुलाई 2020 से 3 %
  • जनवरी 2021 से 4%
  • जुलाई 2021 से 3 %
  • जनवरी 2022 से 3 %
  • मई 2022 से 5%
  • कुल डीए-22 प्रतिशत