मणिपुर में सेना पर अटैक : 5 जवान और कमांडिंग ऑफिसर शहीद, अधिकारी की पत्नी और बेटे का भी निधन

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ के रहने वाले है, कर्नल विप्लव त्रिपाठी, हमले में पत्नी और साढ़े 6 साल के बेटे का भी निधन

डेस्क रिपोर्ट। मणिपुर उग्रवादी हमलें में छत्तीसगढ़ के रायगढ़ के रहने वाले कर्नल विप्लव त्रिपाठी वीरगति को प्राप्त हो गए वही इस हमलें में उनकी पत्नी और साढ़े 6 साल के बेटे का निधन हो गया, सैन्य अधिकारी विप्लव त्रिपाठी वरिष्ठ पत्रकार सुभाष त्रिपाठी के बेटे है। वही कर्नल विप्लव के छोटे भाई भी थलसेना में अधिकारी है, घटना की जानकारी मिलते ही परिजन मणिपुर के लिए रवाना हो गए, मणिपुर में असम राइफल के कमांडिंग ऑफिसर और उनके परिवार पर उग्रवादियों ने घात लगाकर कर हमला किया है यह हमला शनिवार सुबह 10 बजे शेखन-बेहिआंग पुलिस स्टेशन के इलाके में हुआ। बताया जा रहा है कि कर्नल विप्लव अपने परिवार के साथ थे, और किसी कार्यक्रम से लौट रहे थे। असम राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल त्रिपाठी छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के रहने वाले थे। उनका जन्म 1980 में हुआ था। उन्होंने सैनिक स्कूल रीवा में पढ़ाई की थी। असम राइफल्स में लेफ्टिनेंट कमांडेंड रहे त्रिपाठी को डिफेंस स्टडी में M.Sc. करने के बाद प्रोमोशन मिला था।

 

मणिपुर में सेना पर अटैक : 5 जवान और कमांडिंग ऑफिसर शहीद, अधिकारी की पत्नी और बेटे का भी निधन

कोरोना वैक्सीन : जिंदगी का दूसरी डोज न लगवाने वालों को अब यहां भी नो एंट्री

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, 46 असम राइफल के कमांडिंग अफसर अपने परिवार और QRT के साथ जा रहे थे, तभी उग्रवादियों ने उनके काफिले पर हमला कर दिया। सूत्रों के मुताबिक इस हमले कमांडिंग अफसर की पत्नी और एक बच्चा और क्यूआरटी में तैनात 5 जवानों की भी मौत की खबर है। हालांकि सेना की तरफ से फिलहाल इस बारे में आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।

मणिपुर में सेना पर अटैक : 5 जवान और कमांडिंग ऑफिसर शहीद, अधिकारी की पत्नी और बेटे का भी निधन