इस जिले की पुलिस आई सवालों के कटघरे में, 40 लोग पहुंचे पिकनिक मनाने, दो लोग डूबे

जबलपुर, संदीप कुमार

कोरोना वायरस का लॉक डाउन-ईद का पर्व-और पुलिस की चैकिंग पर सवाल, जी हां जबलपुर में लॉक डाउन के बाद भी एक साथ 40 लोगों का पिकनिक में जाना और उसी पिकनिक में नहाते वक्त दो युवकों का डूब जाना कहीं ना कहीं पुलिस की उस वाहन चेकिंग पर सवाल उठा रहा है, जो कि अधारताल से लेकर बरगी तक जाने वाले लोगों की चेकिंग में जुटी थी।

दरअसल ईद के पर्व के बाद आज अधारताल के कटरा में रहने वाले करीब 40 युवक एक साथ पिकनिक मनाने के लिए टेमर नदी पहुंचे थे। इस दौरान इन युवकों की रास्ते में कहीं भी चेकिंग नहीं हुई। पिकनिक मनाने गए इस ग्रुप में दो युवक आज शाम टेमर नदी में नहाते वक्त अचानक ही डूब गए। दोनों ही युवकों के डूबने के बाद दोस्तों में हड़कंप मच गया,  आनन-फानन में कुछ दोस्तों ने डूबे हुए युवकों की तलाश भी की पर नतीजा कुछ नहीं निकला। इधर बरगी थाना पुलिस को सूचना दी गई कि दो युवक टैमर नदी में डूब गए हैं, जिसके बाद पुलिस और गोताखोर मौके पर पहुंचे। करीब 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद भी डूबे हुए दोनों युवकों की जानकारी पुलिस को नहीं मिल पाई है,  बहरहाल अंधेरा होने के चलते अब रेस्क्यू सुबह किया जाएगा।

कोरोना लॉक डाउन में पुलिस की बड़ी लापरवाही

कोरोना वायरस के चलते लगे लॉक डाउन और उसमें एक साथ 40 लोगों का अधारताल से बरगी तक जाना पुलिस की चेकिंग में एक बड़ा सवाल उठा रहा है।कोरोना के कारण जहां लोग अपने घरों पर ही हैं और हर आम व्यक्ति को पुलिस बैरिकेड लगाकर रोक रही है। बावजूद इसके अधारताल के रहने वाले यह 40 युवक आखिर बरगी तक कैसे पहुंच गए सवाल यह भी उठ रहा है कि क्या रास्ते में किसी भी पुलिसकर्मी उन्हें इन्हें रोकने की जहमत नहीं उठाई। बहरहाल अब दोनों युवकों की तलाशी का दौर सुबह शुरू होगा।

इस जिले की पुलिस आई सवालों के कटघरे में, 40 लोग पहुंचे पिकनिक मनाने, दो लोग डूबे