Indore- कोरोना को नई एडवाइज़री, मास्क न लगाने पर जुर्माना, जानिये नए निर्देश

रंगपंचमी पर नहीं निकलेगी गेर

इंदौर, आकाश धोलपुरे। शहर में एक बार फिर मास्क अनिवार्य कर दिया गया है और मास्क न पहने जाने पर जुर्माना लगाया जाएगा। एक दिन पहले सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) ने बढ़ते कोरोना (corona) को बढ़ते मामलों को लेकर इंदौर और भोपाल में मास्क अनिवार्य कर दिया था, जिसके बाद ये निर्णय लिया गया है। अनावश्यक घरों से न निकलने की समझाईश दी है वहीं रंगपंचपी पर निकलने वाले गेर को भी प्रशासन ने फिलहाल प्रतिबंधित कर दिया है। शादी समारोह में जगह की कैपेसिटी के अनुसार मेहमानमों की संख्या निर्धारित किये जाने के निर्देश दिए गए हैं।

कोरोना को रोकने प्रशासनिक स्तर पर बड़े निर्णय

मंगलवार को इंदौर में क्राइसिस मैनेजमेंट समूह (crisis management group) की बैठक इंदौर सांसद शंकर लालवानी (MP Shankar lalwani) की अगुवाई में आयोजित की गई। एक बार फिर से कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए बैठक में कई बड़े निर्णय लागू किये गये हैं। पहले भी इंदौर कोरोना का हॉट स्पॉट बन चुका था लिहाजा कई बड़े कदम उठाये गए हैं। बैठक में निर्णय लिया गया कि बड़े आयोजनों को अनुमति नहीं दी जाएगी। वहीं शादी समारोह में समारोह स्थल की क्षमता से पचास प्रतिशत संख्या में ही मेहमानों की मौजूदगी रहेगी। इसके अलावा अनिवार्य रूप से सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाना जरूरी होगा। नियमों का पालन नहीं करने पर मैरिज गार्डन और होटल संचालकों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यदि लोग मास्क के बिना बाजार में घूमते पाए गए तो अब उनपर जुर्माना लगेगा। इधर, बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए अस्पतालों में भी बैड की संख्या बढ़ा दी गई है।इस बार भी रंगपंचमी पर आयोजित होने वाली परंपरागत गेर निकालने की अनुमति भी नहीं होगी। कोविड गाइडलाइन का पालन करना भी सभी के लिए जरूरी होगा।

ये भी देखिये – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा पर अमल शुरू, विभाग ने दिए यह आदेश

सांसद ने की अपील

इस बैठक में जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों ने  वर्तमान में पैदा हुई स्थिति को सुलझाने के लिए अपने सुझाव भी रखे। इंदौर सांसद शंकर लालवानी (MP Shankar lalwani) की अगुवाई में हुई बैठक के दौरान सांसद ने कहा कि लोगो मे कोरोना के प्रति बढ़ी बेफिक्री को जागरूकता में परिवर्तित करने का समय आ गया है। स्थितियां न बिगड़े इसके लिए सबको प्रयास करने होंगे कि जब तक बीमारी खत्म न हो तब तक किसी भी तरह से ढिलाई न बरती जाए। उन्होने अपील की कि लोग बड़े कार्यक्रमों के आयोजन और उसमें शामल होने से बचें। इस मौके पर बैठक में मौजूद अधिकारियों ने कहा कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बाहरी क्षेत्रों से आने वाले लोगो की जांच के साथ ही अस्पताल में पर्याप्त बैड की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। साथ ही आम नागरिकों को एक बार फिर मास्क पहनने, सेनेटाइजर के इस्तेमाल सहित सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना जरूरी होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here