मटकी फोड़ का आयोजन निरस्त, 11 बच्चे श्रीकृष्ण बनकर फोड़ेंगे कोरोना रूपी मटकी, कोरोना से निपटने का देंगे संदेश

झाबुआ, विजय शर्मा

जन्मोत्सव समिति राजवाड़ा चौक के तत्वावधान में लगातार 16 वर्षो से विशाल तरीके से राजवाड़ा चोक पर दही-हांडी फोड़ का आयोजन किया जाता रहा  है किंतु इस बार जिला प्रशासन के आदेशानुसार कोरोना संकट के कारण यह आयोजन पूरी तरह से निरस्त कर दिया गया है।

यह फैसला समिति की बैठक के दौरान लिया गया, बैठक में तय किया गया कि 11 नन्हे बच्चे कान्हा बनकर कोविड 19 के नियमों का पालन करने की अपील के साथ कोरोना रूपी मटकी फोड़कर देश से जल्द कोरोना संक्रमण खत्म होने की प्रार्थना भगवान श्रीकृष्ण से करेग।

इस बार का पूरा कार्यक्रम प्रतीकात्मक रूप से केवल चुनिंदा श्रीकृष्ण जन्मोत्सव समिति राजवाड़ा चोक के सदस्यों के साथ 12 अगस्त को रात्रि 8.30 बजे किया जाएगा। इस अवसर पर केवल 20 सदस्य उपस्थित रहेंगे, प्रतीकात्मक किये जा रहे कार्यक्रम में ना तो रोशनी की जायेगी  और ना ही साउंड का उपयोग होगा।

पंडित द्विजेन्द्र व्यास और जेमिनी शुक्ला विधिविधान से पूजा अर्चना कर 11 नन्हे बच्चे कोरोना रूपी मटकी फोड़कर, बैनर-पोस्टर के माध्यम से कोविड-19 के नियमो की जागरूकता का संदेश भी आम लोगों को देगे। बैठक के दौरान समिति के सभी सदस्यों ने अपने अपने विचार व्यक्त किये। रविराज सिंह राठौर को 11 नन्हे कान्हा बनाने की जवाबदारी दी गयी व मटकी संबंधी कार्य को अंजाम देने के लिए हुकुम चंद टेलर ,प्रदीप व्यास को अधिकृत किया गया है, इस बार श्रीकृष्ण जन्मोत्सव समिति का गठन भी नही किया गया।