Panna News : कोरोना पॉजिटिव होने के बाद युवक की बिगड़ी हालत, हुई मौत

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के पन्ना से बुरी खबर सामने आई हैं। गुरुवार 25 मार्च को कोविड-19 सेंटर में एक 35 वर्षीय युवक की संक्रमण के चलते मौत हो गई है।

dewas

पन्ना ,भारत सिंह यादव। कोरोना वायरस (Corona virus) के बढ़ते संक्रमण के मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के पन्ना से बुरी खबर सामने आई हैं। गुरुवार 25 मार्च को कोविड-19 सेंटर में एक 35 वर्षीय युवक की संक्रमण के चलते मौत हो गई है। सुचना के अनुसार पवई मुख्यालय में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से युवक को अचेत और बेहोशी की हालत में जिला अस्पताल पन्ना में भर्ती कराया गया था। कोरोना संक्रमित युवक की हालत गंभीर देख ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद तुरंत मेडिकल कॉलेज सागर रेफर कर दिया था। जहां युवक को सागर ले जाने की तैयारी के बीच ही कुछ देर पहले ही उसकी मत्यु हो गई। संक्रमित युवक की मौत होने की पुष्टि CMHO डॉ आर.एस.पांडे एवं जिला चिकित्सालय पन्ना के सर्जन डॉक्टर वी.एस.उपाध्याय ने की है

यह भी पढ़ें….MP : यहां लगा 2 दिन का टोटल लॉकडाउन, प्रशासन ने जारी किए आदेश

पन्ना जिले में कोरोना वायरस से सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार 24 मार्च 2021 तक कोरोनावायरस महामारी से मरने वालों की संख्या कुल 5 थी। CMHO डॉ आर. एस. पांडे ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान बताया कि युवक की जांच पवई स्वास्थ्य केंद्र में हुई थी। जहां युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। गुरुवार 25 मार्च को युवक को गंभीर हालत में पवई से जिला अस्पताल पन्ना रेफर किया गया था। युवक को दोपहर लगभग 2:30 बजे कोविड-19 से संक्रमित मरीज जिला चिकित्सालय पहुंचने पर कोविड सेंटर मे भर्ती कर प्राथमिक उपचार जारी किया गया। लेकिन कुछ ही देर बाद ही युवक की मत्यु हो गई। CMHO ने जानकारी देते हुए बताया कि मरीज के बारे में मुझे अत्यधिक जानकारी नहीं है मेने पवई के बीएमओ को केस हिस्ट्री समेत तमाम आवश्यक जानकारी भेजने के निर्देश दिए हैं। पवई से जानकारी आने के बाद इस केस की पोर्टल में विधिवत एंट्री की जाएगी।

Panna News : कोरोना पॉजिटिव होने के बाद युवक की बिगड़ी हालत, हुई मौत

पन्ना जिले में 24 मार्च 2021 तक की स्थिति कोविड-19 से संक्रमित मरीजों की संख्या 1187 रही है। जिनमें से 1140 स्वस्थ होने के बाद अब कोविड-19 से एक्टिव पुस्ट केस मरीज संख्या 42 थी। कोरोना पॉजिटिव मरीजों को कोरोना संस्थानो में भर्ती करा कर होम आइसोलेशन (Home isolation) में चिकित्सकों की देखरेख में आवश्यक उपचार दिलाने का दावा स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया जा रहा है। देश में एक बार फिर से अपने पांव पसार रही कोरोना महामारी को देख कुछ लोगों के चेहरे में चिंता झलकती साफ नजर आ रही है। वहीं कुछ लोग शासन के नियमों का उल्लंघन करते नजर आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें….Minimum support price: अब समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी 27 मार्च से होगी प्रारंभ, पहले 22 मार्च थी निर्धारित तारीख