शिवराज की चेतावनी, कोरोना में लूटने वाले इंसान नहीं गिद्द, छोड़े नहीं जाएंगे

Shivraj

भोपाल डेस्क ब्यूरो। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के उन निजी अस्पतालों को कड़ी चेतावनी दी है जो कोरोना काल मे आपदा को अवसर बनाए हुए हैं। शिवराज ने कोरोना समीक्षा बैठक के दौरान सख्त निर्देश दिए कि ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी जो लोगों से मनमाने बिल वसूल कर रहे हैं।

बंगाल में बढ़ती हिंसा के बाद भाजपा नेता ने की राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

दरअसल प्रदेश में 500 से ज्यादा निजी अस्पतालों में मनमानी वसूली की शिकायतें शिवराज सिंह चौहान के पास पहुंची हैं। इस पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश भी दिए गए हैं और भोपाल में ही कई अस्पतालों से मरीजों को ज्यादा बिल के नाम पर वसूली गई राशि वापस दिलाने का काम भी किया गया है। गुरूवार को कोरोना की समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल मे आम जनता को लूटने वाले इंसान नहीं गिद्ध है और ऐसे लोगों को छोड़ा नहीं जाएगा। वे शुक्रवार को निजी अस्पताल के संचालकों से ही बात करेंगे। उन्होंने उन निजी अस्पताल के संचालकों की तारीफ भी की जो इस आपदा काल में बेहतर काम कर रहे हैं।

सेवढ़ा रेंजर ने मुख्य वन संरक्षक को भेजा त्याग पत्र, कहा-माफियाओं से जान का खतरा

शिवराज ने सभी कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि वे आयुष्मान योजना के लाभार्थियों के कार्ड हर हाल में एक-दो दिन में तैयार कर लें। यदि परिवार में कोई सदस्य छूट भी गया है तो उसे इस योजना में तुरंत जोड़ा जाए और यह काम तुरंत किया जाए। शिवराज ने यह भी बताया कि कोरोना सहित सभी तरह के इलाजो की सूची इस आयुष्मान योजना कार्ड में है और सोच समझ कर बनाई गई इस पूरी सूची में इलाज करने के लिए निजी अस्पताल बाध्य हैं। कलेक्टरों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि वे हर हाल में कोरोना पीङित आयुष्मान कार्ड धारियों का इलाज निजी अस्पतालों में मुफ्त में सुनिश्चित कराएं जो इलाज के लिए दर-दर भटक रहे हैं।

मध्य प्रदेश के 75 लाख किसानों के लिए खुशखबरी, 7 मई को सीएम करेंगे 1500 करोड़ ट्रांसफर

शिवराज ने यह भी कहा कि प्रदेश के 88% जनता आयुष्मान योजना कार्ड के तहत कवर हैं। ऐसे सभी लोगों का इलाज मुफ्त करना हमारी जिम्मेदारी है। इस योजना के तहत इलाज कराने के लिए निजी अस्पताल भी चिन्हित कर लिए गए हैं। साथ ही कुछ अस्पताल ऐसे भी छोड़े गए हैं यहां संपन्न लोग अपना इलाज करा सकते हैं।