नहीं रहे बॉलीवुड के मंझे खिलाड़ी Satish Kaushik, इस फिल्म से की थी करियर की शुरुआत

Satish Kaushik

Satish Kaushik : बॉलीवुड अभिनेता सतीश कौशिक इस दुनिया से अलविदा कह गए। जहां एक तरफ सभी सेलेब्स और फैंस होली के जश्न में डूबे हुए थे वहीं दूसरी ओर एक्टर ने 67 की उम्र में आंखरी सांसे ली। इस दुखद खबर की जानकारी सुन सभी हैरान रह गए। इंडस्ट्री में शोक की लहर है। अनुपम खेर ने एक्टर को ट्विटर के माध्यम से श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने लिखा है जानता हूं कि मृत्यु ही इस दुनिया का अंतिम सच है। लेकिन ये बात मैं जीते जी कभी अपने जिगरी दोस्त सतीश कौशिक के बारे में लिखूंगा, ये मैंने सपने में भी नहीं सोचा था।

Satish Kaushik का करियर –

सतीश कौशिक का जन्म 13 अप्रैल 1956 को हरियाणा के महेन्‍द्रगढ़ में हुआ था। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत सहायक निर्देशक शेखर कपूर के साथ फिल्म मासूम से की थी। उसके बाद उन्होंने बतौर निर्देशक अपने करियर के पारी की शुरुआत अनिल कपूर और श्री देवी स्टारर फिल्म रूप की रानी चोरो के राजा से की। फिर कभी पीछे मूड कर उन्होंने नहीं देखा।

एक्टर सतीश कौशिक हिंदी फिल्‍मों के डायरेक्‍टर, प्रोड्यूसर भी रह चुके हैं। उन्होंने कई फिल्में निर्देशित की है। फिल्म मिस्टर इंडिया में अपने बेहतरीन अदाकारी के लिए उन्हें जाना जाता है। वह दो बार बेस्ट कॉमेडियन के लिए फिल्मफेयर अवार्ड भी जीत चुके हैं। सतीश कौशिक का फिल्मी करियर काफी शानदार रहा है।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Satish Kaushik (@satishkaushik2178)

उन्होंने इंडस्ट्री में कॉमेडियन के साथ बतौर स्क्रीनराइटर काम किया है। उन्होंने फिल्म जाने भी दो यारों, कागज, स्वर्ग, जमाई राजा, साजन चले ससुराल, मिस्टर और मिसेज खिलाड़ी जैसी कई फिल्मों में अपने शानदार अभिनय से लोगों का दिल जीत लिया। साथ ही उन्होंने ‘हम आपके दिल में रहते हैं’, ‘तेरे नाम’, ‘शादी से पहले’ सहित कई फिल्मों का निर्देशन भी उन्होंने किया है।

एजुकेशन डिटेल्स –

सतीश कौशिक ने दिल्ली से अपनी पढ़ाई पूरी की। उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के करोड़ीमल कॉलेज से ग्रेजुएशन की पढ़ाई की। उसके बाद उन्होंने साल 1978 में फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीयूट ऑफ़ इंडिया से पढ़ाई की। फिर इंडस्ट्री में कदम रखा और फिल्म सफल होने के बाद कभी पीछे मूड कर नहीं देखा।

 

 


About Author
Avatar

Ayushi Jain

मुझे यह कहने की ज़रूरत नहीं है कि अपने आसपास की चीज़ों, घटनाओं और लोगों के बारे में ताज़ा जानकारी रखना मनुष्य का सहज स्वभाव है। उसमें जिज्ञासा का भाव बहुत प्रबल होता है। यही जिज्ञासा समाचार और व्यापक अर्थ में पत्रकारिता का मूल तत्त्व है। मुझे गर्व है मैं एक पत्रकार हूं। मैं पत्रकारिता में 4 वर्षों से सक्रिय हूं। मुझे डिजिटल मीडिया से लेकर प्रिंट मीडिया तक का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कंटेंट राइटिंग, कंटेंट क्यूरेशन, और कॉपी टाइपिंग में कुशल हूं। मैं वास्तविक समय की खबरों को कवर करने और उन्हें प्रस्तुत करने में उत्कृष्ट। मैं दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली से संबंधित विभिन्न विषयों पर लिखना जानती हूं। मैने माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी से बीएससी इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में ग्रेजुएशन किया है। वहीं पोस्ट ग्रेजुएशन एमए विज्ञापन और जनसंपर्क में किया है।

Other Latest News