रियलिटी शो जीतने के बाद भी नहीं मिला फायदा, अभी भी जारी है मुनव्वर की परेशानियां

मुनव्वर को मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। मशहूर स्टैंड-अप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी की मुश्किलें अभी भी बनी हुई हैं। पिछले दिनों ही उनका एक शो दिल्ली में कैंसिल कर दिया गया था। हाल ही में ओटीटी प्लेटफार्म के रियलिटी शो ‘लॉक-अप’ के विजेता मुनव्वर को सांप्रदायिक सौहार्द्र पर असर पड़ने का हवाला देते हुए पुलिस द्वारा परमिशन नहीं दी गई। इन सब से परेशान मुनव्वर ने एक बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि इन सब के चलते उनके मन में कई बार आया कि वह आत्महत्या कर ले।

राम पर जोक करना पड़ा महंगा

मुनव्वर फारूकी के साथ 2021 से सारी कंट्रोवर्सी शुरू हुई थी, जब उन्हें एक शो के दौरान ‘मेरा पिया घर राम जी’ गाने परे किए गए मजाक को लेकर आलोचना का सामना करना पड़ा था। मुनव्वर पर उस दौरान सांप्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने का आरोप लगा था। इस विवाद के लिए उन्हें गिरफ्तार भी किया गया था और महीनेभर से ज्यादा दिन उन्हें जेल में भी काटने पड़े थे। जिस के बाद उनके शोज का विरोध होने लगा था। इस बीच लगातार शोज कैंसिल और कुछ काम न होने के कारण उन्होंने इस फील्ड को अलविदा कह दिया था।

इंटरव्यू के दौरान दिल्ली वाले शो पर रोक लगने के बारे में बात करते हुए मुनव्वर ने बताया कि इन सब बातों को साल भर होने को आया, लेकिन ये विवाद उनका पीछा नहीं छोड़ रहा है। मुनव्वर ने कहा, ”बहुत समय लगा मुझे, मैंने ही खुद का नुकसान किया है। कभी-कभी मुझे लगता था कि मैं खुद को सजा दे दूं। मैं खुद से ही इतना नाराज हूं कि मैं खुद के ही साथ कुछ कर लूं। कभी-कभी ऐसा लगता है कि मैं इतना कसूरवार हूं, चलो खुद को ही खत्म कर लेता हूं। लेकिन फिर लगता था कि ऐसे मर के जहन्नुम में नहीं जाना है।”

ये भी पढ़े … रोमांटिक डेट पर साथ दिखे शुभमन गिल और सारा अली खान! ट्विटर पर आई मीम्स की बाढ़

विवादों से हो गया है रिश्ता

आत्महत्या के बारे में ख्याल आने के बारे में मुनव्वर ने कहा, “नहीं ये गलत है। फिर लगता था चलो थोड़ा और अब सब ठीक हो जाएगा। देख लेते हैं।”विवादों पर उन्होंने कहा, “अब मैंने अपने अकेलेपन से दोस्ती कर ली है। मैंने एक्सेप्ट कर लिया है कि अकेले रहोगे ना तो कोई उम्मीद नहीं रहेगी। मुझे ज्यादा खुशी मिल जाती है डर जाता हूं। जब बहुत प्यार मिलता है तो खोने का ज्यादा डर लगता है।”

मुनव्वर ने इंटरव्यू में साझा किया कि उन्होंने इन विवादों का इतना सामना किया है कि अब यह एक आदत बन गई है। वे सुबह उठते हैं और देखते हैं कि अब मेरे साथ क्या विवाद हो गया है। मेरे जीवन में अब कौन सा नया भूकंप आया है?

अभी भी जारी है केस

विवादित टिप्पणी के चलते मुनव्वर पर 2021 में दर्ज किया गया केस अभी तक चल रहा है। इस पर मुनव्वर ने कहा, “लोग मेरे पीछे पड़ते हैं, उन्हें लगता है मैं पतली गली से निकल गया। लेकिन ऐसा नहीं है। मैं जेल में सजा काट के आया हूं। मेरे ऊपर वो केस अभी भी चल रहा है। मैं बरी नहीं हुआ हूं। फंसा पड़ा हूं। सर पर तलवार लटकी है। फिर भी मेरे शोज कैंसिल होते हैं। मेरा काम मुझसे छीन लिया जा रहा है।”

आपको बता दें, मुनव्वर को मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। 30 वर्षीय फारूकी और चार अन्य लोगों को 1 जनवरी को इंदौर के लोकप्रिय 56 डुकन इलाके में एक कैफे में अपना प्रदर्शन शुरू करने से ठीक पहले गिरफ्तार किया गया था। हिंद रक्षक संगठन के संयोजक और भारतीय जनता पार्टी विधायक मालिनी गौड़ के बेटे एकलव्य गौर की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया था।

ये भी पढ़े … अगर आपके फोन में दिख रहे है ये साइन, तो समझ लीजिए हैक हो गया है आपका डिवाइस

गौर के वकील के अनुसार, फारूकी, जो गुजरात के जूनागढ़ से है, पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188, 269, 34 और 295 ए के तहत बिना अनुमति के कार्यक्रम आयोजित करने, कोविड -19 सुरक्षा मानदंडों की धज्जियां उड़ाने और धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए मामला दर्ज किया गया था।