स्वर कोकिला लता मंगेशकर के नाम से जाना जाएगा अयोध्या का यह चौराहा, लगाई गई है खूबसूरत वीणा

आयोध्या के एक चौराहे को सिंगर लता मंगेशकर के नाम से बनाया गया है। जिसका उद्घाटन CM योगी करेंगे।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री की दिग्गज सिंगर लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) को सुर कोकिला कहा जाता है। अपने 70 सालों के लंबे करियर में लता मंगेशकर ने अलग-अलग भाषाओं में ना जाने कितने हिट गाने गाए हैं। 92 साल की उम्र में इसी साल फरवरी में उन्होंने इस दुनिया को अलविदा तो कह दिया लेकिन अपने बेहतरीन गानों और सुरीली आवाज के चलते वह हमेशा लोगों के दिलों में जिंदा रहेंगी।

जीते जी तो अपने बेहतरीन गाने से दर्शकों का दिल जीतने के साथ लता मंगेशकर ने कई अवॉर्ड्स अपने नाम किए। लेकिन अब उत्तर प्रदेश के अयोध्या के प्रमुख चौराहे नयाघाट को स्वर कोकिला लता मंगेशकर के नाम से जाना जाएगा। 7.9 करोड़ की लागत से इस चौराहे का निर्माण किया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लता मंगेशकर के जन्मदिन 28 सितंबर को इस चौराहे का उद्घाटन करने वाले हैं जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी ऑनलाइन शामिल होंगे।

Must Read- नजर रखने के लिए बॉस ने टॉयलेट में लगवा दिया कैमरा, फोटो वायरल होने कर भड़के कर्मचारी

लता मंगेशकर के नाम से बनाए गए इस चौराहे पर 10.8 मीटर लंबी और 12 मीटर ऊंची एक खूबसूरत वीणा भी लगाई गई है। ये वीणा इस चौराहे का मुख्य आकर्षण का केंद्र होने वाली है। इसके अलावा यहां पर अन्य वाद्य यंत्र भी लगाए गए हैं जिसमें लता मंगेशकर की सुरीली आवाज सुनाई देगी।

स्वर कोकिला लता मंगेशकर के निधन के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस चौराहे को बनाने की घोषणा की थी। यह पूरी तरह से बनकर तैयार है यहां स्थापित इस विशाल वीणा को प्रसिद्ध मूर्तिकार पद्मश्री राम वी सुतार ने तैयार किया है।

लता मंगेशकर की बात करें तो अपने 70 साल के करियर में उन्होंने अलग-अलग भाषाओं में लगभग 50,000 से ज्यादा गाने गाए। अपने बेहतरीन नगमे के लिए उन्हें पद्म भूषण, पद्म विभूषण और भारत रत्न से नवाजा गया। इसके अलावा गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी उन्होंने रिकॉर्ड कायम किए।