शिक्षकों को मिलेगी बड़ी सौगात, 15% वेतन वृद्धि से 9 महीने के एरियर्स का होगा भुगतान, मई में खाते में आएगी राशि

हालांकि सरकार ने घोषणा की थी कि 31 मार्च तक सभी शिक्षकों को वेतन वृद्धि के साथ एरियर्स का भुगतान किया जाएगा।

पटना, डेस्क रिपोर्ट। राज्य शासन (state Government) द्वारा शिक्षकों (Teachers) को जल्द बड़ा तोहफा दिया जाएगा। सवा 3 लाख शिक्षकों को 15 फीसद वेतन वृद्धि (Increment) से 9 महीने के बकाया एरियर (Arrears) का भुगतान किया जाएगा। हालांकि इस भुगतान में शिक्षकों को थोड़ा विलंब हो सकता है। जानकारी के मुताबिक पंचायत और नगर निकाय नियोजन इकाई से बाहर राज्य के शिक्षकों को वेतन वृद्धि का भुगतान मई महीने के अंत में किया जाएगा।

बता दें कि बिहार सरकार के वेतन वृद्धि करने के बाद 9 महीने तक शिक्षकों को बढ़े हुए वेतन का लाभ नहीं दिया गया था। जिसके बाद अब वेतन वृद्धि के एरियर के भुगतान के आदेश के बाद सवा तीन लाख शिक्षकों को अप्रैल 2021 से दिसंबर 2021 तक के बकाया वेतन वृद्धि और का भुगतान किया जाना है। इसके लिए शिक्षकों के डाटा अपलोडिंग का काम तेजी से पूरा किया जा रहा है। अब तक राज्य के 3 लाख 22 हजार 557 शिक्षकों के वेतन वृद्धि के लिए उनके डाटा अपलोड किए जा चुके हैं।

Read More : SAHARA को बड़ा झटका, 3 कंपनियां नहीं ले सकेगी लोगों से जमा राशि, केंद्र सरकार का बड़ा बयान

वहीं इनमें से 3 लाख 13 हजार 793 शिक्षकों को गुरुवार तक पे-स्लिप जारी किया जा चुका है ऐसे पहले प्रारंभिक स्कूल और हाई स्कूल के 1 लाख से अधिक शिक्षकों को जनवरी और फरवरी माह के बढ़े हुए दर से वेतन का भुगतान कर दिया गया है। अन्य शिक्षकों को मई के अंत तक एरियर सहित वेतन वृद्धि का लाभ दिया जाएगा। हालांकि सरकार ने घोषणा की थी कि 31 मार्च तक सभी शिक्षकों को वेतन वृद्धि के साथ एरियर्स का भुगतान किया जाएगा।

बता दें कि प्रारंभिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों में शिक्षक और अन्य शिक्षकों के वेतन वृद्धि से उनके वेतन में 3 से 4 हजार रुपए प्रति माह वृद्धि दी गई है। इसके साथ ही उन्हें 9 महीने के बकाया एरियर के रूप में 27 से 36 हजार रूपए तक का भुगतान किया जाएगा।

इसके साथ ही अब शिक्षा विभाग में नई तैयारी के लिए जिलों के लिए एनआईसी द्वारा ऑनलाइन पर केलकुलेटर सॉफ्टवेयर भी तैयार करवाया गया है। जिसके कारण शिक्षकों को वेतन निर्धारण में किसी भी तरह की गलती ना होने पाए। इसके साथ ही वेतन वृद्धि के साथ एरियर भुगतान के मामले की भी समीक्षा की जा रही है।