कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज़, DA के एरियर्स पर आई बड़ी अपडेट, खाते में डेढ़ से 2 लाख तक बढ़ेगी राशि!

एरियर का भुगतान कर्मचारियों को उनके लेवल के मुताबिक तय किया जाएगा।

cpcc

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। केंद्रीय कर्मचारियों (employees-pensioners) के लिए राहत भरी खबर है। दरअसल लंबे समय से एरियर्स की (18 months outstanding DA Arrears) राशि के भुगतान का इंतजार कर रहे 7th pay commission कर्मचारियों को नवंबर महीने में बड़ा लाभ मिल सकता है। आ रही जानकारी के मुताबिक नवंबर के महीने में कैबिनेट सेक्रेटरी के साथ यूनियन की बैठक होने वाली है। जिसमें 18 महीने के बकाए एडियस का मुद्दा उठाया जाएगा। जल्द ही इस पर बड़ा फैसला भी लिया जा सकता है। यदि ऐसा होता है तो कर्मचारियों के खाते में डेढ़ से 2 लाख रुपए तक की वृद्धि देखी जाएगी।

नवंबर में होने वाली कैबिनेट सेक्रेटरी के साथ यूनियन की बैठक एरियर्स पर क्या फैसला होता है, इस पर अभी कुछ भी स्पष्ट नहीं है। हालांकि केंद्रीय कैबिनेट ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को मंजूरी दी थी। इसके बाद महंगाई भत्ता बढ़ाकर 38 फीसद हो गया है। वही अब 18 महीने के बकाया एरियर पर भी जल्द फैसला आने की उम्मीद बढ़ गई है।

Read More : दिग्गज नेता और विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मंडावी का हार्ट अटैक से निधन, सदमे में कांग्रेस, CM ने जताया शोक

बैठक में यदि कर्मचारियों के एरियर के भुगतान के सहमति बनती है तो 1 जुलाई 2020 से लेकर 1 जनवरी 2021 तक के महंगाई भत्ते के एरियर का भुगतान कर्मचारियों को किया जाएगा। हालांकि एरियर का भुगतान कर्मचारियों को उनके लेवल के मुताबिक तय किया जाएगा। जिसके साथ ही कर्मचारियों के खाते में एकमुश्त राशि बढ़ सकती है। यदि एरियर का भुगतान किया जाता है तो यह एकमुश्त होगा या किस्तों के आधार पर इसका भुगतान किया जाएगा। फिलहाल इस पर भी संशय बरकरार है।

बता दें कि 18 महीने के बकाया एरियर के भुगतान की मांग केंद्रीय कर्मचारी की यूनियन द्वारा लगातार किया जा रहा है, JCM सेक्रेटरी द्वारा भी कैबिनेट सेक्रेटरी को इस मामले में पत्र लिखा गया था। जिसमें बकाए के बातचीत के लिए भी वक्त की मांग की गई थी। वही यूनियन इस बात पर भी राजी है कि सरकार के साथ बकाए के एकमुश्त भुगतान पर नेगोशिएट सेटलमेंट की बात भी की जा सकती है।

मामले में नेशनल काउंसिल ऑफ जेसीएम के शिव गोपाल मिश्रा के मुताबिक लेवल 1 के कर्मचारियों को 11880 से 37554 रूपए तक का भुगतान किया जा सकता है। वही लेवल 13 के लिए यह राशि 123000 रूपए से 215000 रुपए हो सकती है जबकि लेवल 14 पे स्केल के लिए यह राशि 218200 रुपए तक पहुंच सकती है।

बता दें कि 2 साल पूर्व 2020 में आए कोरोना की वजह से जनवरी 2020 जून 2020 4 जनवरी 2021 के महंगाई भत्ते को फ्रीज कर दिया गया था। हालांकि जून 2021 में रोक हटने के बाद सरकार द्वारा 11 फीसद महंगाई भत्ते में वृद्धि तो की गई लेकिन 18 महीने के बकाए एरियर्स पर विराम लग गया। कर्मचारियों द्वारा अब इन छमाही के लिए एरियर्स के भुगतान की मांग की जा रही है। ऐसे में 18 नवंबर को मीटिंग में कोई बड़ा फैसला हो सकता है। यदि फैसला कर्मचारियों के हित में होता है तो इसके बाद कर्मचारियों के खाते में डेढ़ से दो लाख तक की वृद्धि देखने को मिल सकती है।