सरकार का बड़ा फैसला, 8 लाख से अधिक कर्मचारियों को मिलेगा लाभ, 35 हजार तक बढ़ेंगे वेतन

पहले यह सीमा 9,284 रुपये तय की गई थी।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कर्मचारियों (employees) के परिवारों को राहत प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार ने बुधवार को 7th pay commission पेंशन स्लैब (pension slab) में वृद्धि की। अब बैंक कर्मचारी (bank employees) के परिवार को अंतिम आहरित वेतन के 30 प्रतिशत के समान स्लैब पर पेंशन मिलेगी। इस फैसले से 8 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को फायदा होगा। DA में बढ़ोतरी से हर महीने बैंक कर्मचारियों द्वारा प्राप्त शुद्ध वेतन में वृद्धि होगी क्योंकि यह सीधे मूल वेतन (basic pay) से जुड़ा हुआ है। वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवा विभाग के सचिव देबाशीष पांडा ने कहा कि इस कदम से परिवारों के लिए पेंशन लाभ 30,000 रुपये से बढ़कर 35,000 रुपये हो जाएगा। पहले यह सीमा 9,284 रुपये तय की गई थी।

वित्तीय सेवा विभाग (DFS) के सचिव देबाशीष पांडा ने बुधवार को घोषणा की कि मृतक पीएसबी बैंकरों के परिवार के सदस्यों को अब अंतिम आहरित वेतन का 30% पेंशन मिलेगा, जो पहले 9,284 रुपये था। सरकार ने NPS के तहत कर्मचारी पेंशन के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के योगदान को पहले के 10% से बढ़ाकर 14% कर दिया। उन्होंने यह भी कहा कि निवेशकों का विश्वास हासिल करने के बाद पीएसबी अब अपने संसाधन जुटा रहे हैं। उन्होंने कहा कि 12,000 करोड़ रुपये से अधिक का फंड जुटाने की प्रक्रिया चल रही है।

इंडियन बैंकिंग एसोसिएशन (IBA) ने पहले सिफारिश की थी कि विभिन्न श्रेणियों के पेंशनभोगियों के लिए 15 प्रतिशत, 20 प्रतिशत और 30 प्रतिशत की स्लैब दरों पर देय पारिवारिक पेंशन में बिना किसी निश्चित सीमा के सुधार किया जाना चाहिए। वित्त मंत्रालय ने हजारों बैंक कर्मचारियों और उनके परिवारों को लाभ पहुंचाने के लिए इस सिफारिश को मंजूरी देने का फैसला किया था। इसके अलावा सरकार ने बैंकों से पेंशन कोष में नियोक्ता के योगदान को मौजूदा 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 14 प्रतिशत करने को कहा है।

Read More: Datia: कांग्रेस विधायक जयवर्धन ने शिवराज सरकार को घेरा, बाढ़ पीड़ितों के लिए की ये बड़ी मांग

सीतारमण ने बुधवार को यहां मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि बैंकों से निर्यात प्रोत्साहन एजेंसियों, वाणिज्य और उद्योग मंडलों के साथ बातचीत करने का भी अनुरोध किया गया है ताकि निर्यातकों की आवश्यकता को समय पर समझा जा सके और उनका समाधान किया जा सके। सीतारमण ने कहा कि बदले समय के साथ, अब उद्योगों के पास बैंकिंग क्षेत्र के बाहर से भी धन जुटाने का विकल्प है। बैंक स्वयं विभिन्न माध्यमों से धन जुटा रहे हैं। जहां जरूरत हो वहां क्रेडिट को लक्षित करने के लिए इन नए पहलुओं का अध्ययन करने की जरूरत है।

इस महीने की शुरुआत में, बैंक कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ता (DA) बढ़ा दिया गया था। नई डीए दर अगस्त 2021 से लागू होगी और अगस्त से अक्टूबर तक प्रभावी होगी और साथ ही यह नियम 11वीं BPS वेतन संरचना का पालन करने वाले बैंकरों के लिए लागू होगी।

बैंक कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते (DA) को पिछली तिमाही की तुलना में 2.1 प्रतिशत बढ़ाकर 27.79 प्रतिशत कर दिया गया है। 10वीं BPS के लिए बैंक कर्मचारियों और कामगारों के डीए में पिछली तिमाही की तुलना में 3 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। डीए में वृद्धि अगस्त से शुरू होकर अगले तीन महीनों के लिए लागू रहेगी।