31% तक DA बढ़ोतरी के बाद कर्मचारियों को जल्द मिलेंगे बकाए एरियर्स, जाने नई अपडेट

केंद्र सरकार ने महंगाई भत्ते और महंगाई राहत में 3 फीसदी की बढ़ोतरी करने का ऐलान किया है।

कर्मचारियों

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कैबिनेट ने गुरुवार को 7th pay commission केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के महंगाई भत्ते और महंगाई राहत में 3 फीसदी की बढ़ोतरी करने का ऐलान किया है. जिसके बाद 20 हजार से 56 हजार रुपये तक की बेसिक सैलरी पाने वालों के वेतन में जबरदस्त इजाफा होगा। वहीँ बकाये एरियर पर अभी सरकार का फैसला बाकी है।

18 माह के एरियर का इंतजार

अब कर्मचारी अपने 18 महीने के बकाया का इंतजार कर रहे हैं, जो जनवरी 2020 से जून 2021 तक कोरोना अवधि के दौरान कर्मचारियों को भुगतान नहीं किया गया था। दरअसल, कोरोना के आने के कारण केंद्र सरकार ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते पर रोक लगा दी थी। लेकिन इसे हर 6 महीने में बढ़ाया जाता था।

जनवरी 2020 में 4 प्रतिशत, जून 2020 में 3 प्रतिशत और जनवरी 2021 में 4 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। अब कर्मचारी इस बकाया की मांग कर रहे हैं। हालांकि सरकार इसे देने से इनकार कर रही है, लेकिन संगठन ने इस बारे में पीएम मोदी को पत्र लिखा है. जिस पर कुछ अनाउंसमेंट किए जाने की संभावना है।

Read More: इस तारीख को खाते में आएगी PM-KISAN की 10वीं किस्त, किसानों को जल्द मिलेंगे 12 हजार रूपए

इधर जिस दिन का इंतजार 7th pay commission केंद्रीय कर्मचारी पिछले कुछ हफ्तों से कर रहे थे। वह आखिरकार गुरुवार को आ गया। केंद्र सरकार ने महंगाई भत्ते और महंगाई राहत में 3 फीसदी की बढ़ोतरी करने का ऐलान किया है।इस घोषणा के बाद केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में जबरदस्त इजाफा होगा। यह महंगाई भत्ता 1 जुलाई से लागू होगा।

संभव है कि दिवाली से पहले आने वाले वेतन में यह महंगाई भत्ता कर्मचारियों के वेतन और पेंशनभोगियों की पेंशन में शामिल हो जाए। उधर, महंगाई भत्ते के बकाये के संबंध में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है। इसकी घोषणा पीएम मोदी कर सकते हैं.

20 हजार सैलरी पाने वालों को कितना मिलेगा फायदा

सबसे पहले बात करते हैं उन कर्मचारियों की जिनकी बेसिक सैलरी 20 हजार रुपये है। दरअसल, महंगाई भत्ते की गणना मूल वेतन पर की जाती है। यदि किसी कर्मचारी का मूल वेतन 20 हजार रुपये है तो उसका महंगाई भत्ता 31 प्रतिशत की दर से 6200 रुपये होगा। जबकि 28 प्रतिशत की दर से यह महंगाई भत्ता 5600 रुपये था जबकि 17 प्रतिशत की दर से यह 3400 रुपये था। यानी जुलाई से अब तक महंगाई भत्ते में 14 प्रतिशत की दर से 2800 रुपये की वृद्धि देखी गई है।

56000 बेसिक लोगों का वेतन कितना बढ़ेगा

वहीं अगर बेसिक कर्मचारियों के वेतन में 56000 रुपये की बढ़ोतरी की बात करें तो इसमें उल्लेखनीय वृद्धि होगी। यदि किसी अधिकारी का मूल वेतन 56000 रुपये है तो 31 प्रतिशत महंगाई भत्ते के अनुसार 17360 रुपये होगा। जबकि 28 प्रतिशत की दर से महंगाई भत्ता 15680 रुपये था।

वहीं, जुलाई से पहले महंगाई भत्ता भत्ता 17 फीसदी था, ऐसे में कर्मचारियों को 9520 रुपये महंगाई भत्ते के तौर पर मिल रहे थे। ऐसे में महंगाई भत्ता अब 17 फीसदी से बढ़कर 31 फीसदी हो गया है। ऐसे में यह बढ़कर 7840 रुपये प्रति माह हो गया है।