कर्मचारियों की दिवाली होगी रौशन, नवंबर महीने में खाते में आएंगे 90 हजार रूपए, जाने नई अपडेट

7th pay commission: पिछले साल अप्रैल में वित्त मंत्रालय ने कोरोना महामारी को देखते हुए 1 जनवरी, 2020 से 30 जून, 2021 तक DA और DR (arrears) के भुगतान पर रोक लगा दी थी।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। केंद्र सरकार (Modi government) के 7th pay commission कर्मचारियों (employees) के लिए बड़ी दिवाली होगी। दिवाली से पहले केंद्रीय मंत्रिमंडल ने महंगाई भत्ते (DA) में 3 फीसदी की बढ़ोतरी कर कर्मचारियों को तोहफा दिया था। यह महंगाई भत्ता (DA) एक जुलाई से लागू कर दिया गया है। हालांकि केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को 1 जनवरी 2020 से 30 जून 2021 तक 18 महीने का DA और DR (outstanding arrears) नहीं मिला है। जिसपर पीएम (PM Modi) नवंबर के आखिर सप्ताह तक बड़ा फैसला ले सकते हैं।

इससे पहले डीए 28 फीसदी की दर से बढ़ाया गया था। जुलाई 2021 से महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के साथ एरियर भी मिलेगा। केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 31 फीसदी डीए के साथ एरियर भी मिलेगा, केंद्र सरकार के कर्मचारियों को बढ़े हुए डीए का लाभ अक्टूबर 2021 से मिलना शुरू हो जाएगा। उन्हें 31 फीसदी की दर से भुगतान किया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के मुताबिक एक जुलाई से 31 फीसदी महंगाई भत्ता लागू कर दिया गया है। जुलाई, अगस्त, सितंबर माह में 28 फीसदी की दर से salary मिली है। अब 31 फीसदी डीए और 3 महीने के एरियर के साथ अक्टूबर की सैलरी के साथ पैसा आएगा।

Read More: जेब कतरों से सावधान’ Twitter पर लिखकर ट्रोल हुए Rahul Gandhi

पिछले साल अप्रैल में वित्त मंत्रालय ने कोरोना महामारी को देखते हुए 1 जनवरी, 2020 से 30 जून, 2021 तक DA और DR के भुगतान पर रोक लगा दी थी। जिससे केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को 1 जनवरी 2020 से 30 जून 2021 तक 18 महीने का DA और DR नहीं मिला।हालांकि सरकार ने साफ कर दिया है कि इन 18 महीनों (जनवरी 2020 से जून 2021) का बकाया भुगतान किया जाएगा. केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को नहीं दिया जाएगा। बल्कि बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता एक जुलाई से प्रभावी होगा।

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के मुताबिक 31 फीसदी डीए और एरियर के भुगतान पर सरकारी खजाने पर 9488.74 करोड़ रुपये का भार पड़ेगा. जनवरी 2020 में महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी की गई थी। फिर जून 2020 में इसमें 3 फीसदी और जनवरी 2021 में 4 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। हालांकि, कोरोना के चलते सरकार ने जनवरी 2020 से जून 2021 तक तीन महंगाई भत्तों की बढ़ोतरी पर रोक लगा दी थी। जुलाई में सरकार ने इसे एक साथ 28 फीसदी की दर से जारी किया। इसमें 11 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। जिसके बाद एक बार फिर अक्टूबर में दिए में 3 फीसद की बढ़ोतरी फिर की गई, जिससे डा बढ़कर 31% हो गया है।

केंद्र सरकार के कर्मचारियों का डीए साल में दो बार बढ़ाया गया है। यदि किसी कर्मचारी का मूल वेतन 18,000 रुपये है, तो उसे वर्तमान में महंगाई भत्ते के रूप में 5,040 रुपये मिल रहे हैं। यह राशि मूल वेतन का 28 प्रतिशत है। डीए 31 फीसदी के बाद कर्मचारी को 5,580 रुपये डीए के तौर पर मिलेगा। मूल वेतन में वृद्धि के साथ ही महंगाई भत्ते की कुल राशि में भी वृद्धि होगी। सालाना आधार पर देखें तो सैलरी में 6480 रुपये की बढ़ोतरी होगी।