1 करोड़ केंद्रीय कर्मचारियों-पेंशनर्स के लिए अच्छी खबर, AICPI आंकड़े जारी, DA में 4 फीसद की वृद्धि संभव, मिलेगा लाभ

आंकड़ों की माने तो 56,900 रुपये की अधिकतम मूल आय पर मिलने वाला डीए 2,276 रुपये बढ़ जाएगा।

cpcss

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। केंद्र सरकार के 7th Pay Commission कर्मचारियों (Empoees)-pensioners के लिए अच्छी खबर है। दरअसल महंगाई भत्ते (DA) संशोधन पर कर्मचारियों को DA में 4 फीसद की बढ़ोतरी जुलाई से अगस्त महीने के अंदर मिल सकती है। दरअसल इस बार AICPI के अप्रैल के आंकड़े जारी कर दिए गए हैं। जिसमें 1.7 अंक की बढ़ोतरी रिकॉर्ड की गई है। वहीं AICPI रैंक (AICPI Rank) बढ़ कर 127.7 पहुंच गया है। जिसके बाद DA में 4 फीसद की बढ़ोतरी तय मानी जा रही।

अगले महंगाई भत्ते (DA) संशोधन पर आधिकारिक खबर अभी जारी नहीं की गई है लेकिन विभिन्न रिपोर्टों में 4 प्रतिशत बढ़ोतरी की भविष्यवाणी की गई है। केंद्र में काम करने वाले कर्मचारियों का मौजूदा डीए 34 फीसदी है। वहीँ जुलाई में डीए वृद्धि की सम्भावना है। माना जा रहा है। इसबार उनके DA में 4 फीसद की बढ़ोतरी दर्ज की जाएगी।अनुमानित वृद्धि के साथ यह प्रतिशत बढ़कर 38% हो जाएगा।

उनके मूल वेतन के आधार पर, उनके मुआवजे पर प्रभाव 8,000 रुपये से 27,000 रुपये प्रति माह तक होगा। डीए सरकारी कर्मचारियों के वेतन का एक बड़ा हिस्सा है, और उन्हें बढ़ती महंगाई के साथ तालमेल बिठाने की जरूरत है। सातवें वेतन आयोग के नियमों के तहत, डीए के प्रतिशत का मूल्यांकन साल में दो बार किया जाता है।

श्रम और रोजगार मंत्रालय के तहत श्रम ब्यूरो द्वारा मंगलवार को जारी एक बयान के अनुसार अप्रैल 2022 के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI-IW) 1.7 अंक बढ़कर 127.7 हो गया। केंद्र सरकार के कर्मचारी के लिए ये आंकड़े बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि डीए या महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी इसी इंडेक्स से तय होती है।

Read More : MP : कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, अब ऐसे मिलेगा पेंशन का लाभ, 2 की सेवा समाप्त, 1 का डिमोशन

श्रम ब्यूरो अगले महीने के आखिरी दिन एक महीने के आंकड़े संकलित करता है। औद्योगिक रूप से महत्वपूर्ण 88 केंद्रों में 317 बाजारों से एकत्रित खुदरा कीमतों के आधार पर औद्योगिक श्रमिकों के लिए सूचकांक। सूचकांक 88 शहरों और संपूर्ण भारत के लिए संकलित किया गया है। एक महीने के प्रतिशत परिवर्तन पर, पिछले महीने की तुलना में AICPI में 1.35 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि एक साल पहले इसी महीने में 0.42 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई थी।

केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते की गणना 12 महीने के औसत CPI-IW सूचकांक के आधार पर की जाती है। जुलाई से डीए की गणना के लिए दो और महीनों मई 2022 और जून 2022 के सीपीआई-आईडब्ल्यू आंकड़ों की आवश्यकता है। हालांकि, उपलब्ध आंकड़ों के साथ, मौजूदा मुद्रास्फीति को यह मानते हुए कि सूचकांक अब सामान्य से नीचे नहीं जाएंगे, 01, जुलाई 2022, से महंगाई भत्ता या डीए में 4% की वृद्धि होगी। जिससे आंकड़ा बढ़कर 38% हो जाएगी। महंगाई के दबाव से जूझ रहे केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए यह खुशखबरी होगी।

AICPI का पहला स्पाइक जनवरी में होता है, दूसरा अक्सर जुलाई में होता है। AICPI का उपयोग DA (अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक) को संशोधित करने के लिए किया जाता है। दिसंबर 2021 में, यह मुद्रास्फीति बिंदु 125.4 था, जो जनवरी 2022 में 0.3 अंक गिरकर 125.1 और फरवरी में 0.1 गिरकर 125 हो गया था।

मार्च में AICPI एक अंक बढ़कर 126 हो गया। अप्रैल के परिणाम अब जारी हो गए हैं। AICPI की वृद्धि से निश्चित रूप से केंद्रीय कर्मचारी के लिए 4% डीए वृद्धि संभव है। वहीँ आंकड़ों की माने तो 56,900 रुपये की अधिकतम मूल आय पर मिलने वाला डीए 2,276 रुपये बढ़ जाएगा। मासिक डीए 19,346 रुपये से बढ़कर 21,622 रुपये हो जाएगा। अनुमानित 4% वृद्धि के परिणामस्वरूप 27,312 रुपये की वार्षिक वृद्धि होगी।