1 करोड़ कर्मचारियों को मिली खुशखबरी, वेतन में 95,000 रूपए तक की वृद्धि

7th Pay Commission: वेतन ग्रेड के अनुसार वेतन बढ़ता है

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। केंद्र सरकार (Modi Government) के 7th pay commission कर्मचारियों (Employees) के लिए एक अच्छी खबर आई है। महंगाई भत्ते (Dearness allowance) में हालिया बढ़ोतरी के बाद उनके वेतन में 95,000 रुपये की बढ़ोतरी होगी। 1 जुलाई से केंद्र सरकार के कर्मचारियों को महंगाई भत्ते (DA) में 28% की बढ़ोतरी मिल रही है। और फिर केंद्र ने उनका डीए 28% से बढ़ाकर 31% किया है।

Employees को ध्यान देना चाहिए कि उनका वेतन उनके मूल वेतन और ग्रेड के अनुसार बढ़ता है। अब डीए बढ़ने के बाद इनकी सैलरी में इजाफा होगा. महंगाई भत्ते और महंगाई राहत में बढ़ोतरी 47.14 लाख केंद्र सरकार के कर्मचारियों और 68.62 लाख पेंशनभोगियों के लिए फायदेमंद साबित होगी। बढ़ोतरी के बाद वे बढ़ा हुआ सालाना वेतन पैकेज घर ले जा सकेंगे।

सातवें वेतन आयोग (7th CPCs) की सिफारिश के अनुसार, स्तर 1 केंद्र सरकार के कर्मचारी (employees) का वेतन (Salary) 18000 रुपये से 56900 रुपये तक है। और केंद्र सरकार के कर्मचारी के लिए 18000 रुपये के वेतन के साथ वार्षिक वेतन वृद्धि 30,240 रुपये होगी।

Read More : भय नहीं सतर्कता से करना होगा कोरोना का मुकाबला – प्रवीण कक्कड़

न्यूनतम मूल वेतन पर गणना

  • कर्मचारी का मूल वेतन 18,000
  • नया महंगाई भत्ता (31%) रु 5580/माह
  • अब तक का महंगाई भत्ता (17%) रु 3060/माह
  • कितना बढ़ा महंगाई भत्ता 5580-3060 = रु 2520/माह
  • वार्षिक वेतन वृद्धि 2520X12 = रु 30,240

अधिकतम मूल वेतन पर गणना

  • कर्मचारी का मूल वेतन: 56900 रुपये
  • नया महंगाई भत्ता (31%) रु 17639 /माह
  • अब तक का महंगाई भत्ता (17%) रु 9673/माह
  • कितना बढ़ा महंगाई भत्ता 17639-9673 = रु 7966/माह
  • वार्षिक वेतन वृद्धि 7966X12 = 95,592 रुपये

31% महंगाई भत्ते के अनुसार 56900 रुपये के मूल वेतन पर कुल वार्षिक महंगाई भत्ता 211,668 रुपये है। लेकिन अंतर की बात करें तो वेतन में सालाना 95,592 रुपये की बढ़ोतरी हो रही है।