Bhopal Smart City Scam: शिवराज सरकार की बड़ी कार्रवाई, IAS आदित्य सिंह को पद से हटाया

IAS

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार (shivraj government) ने बहुचर्चित स्मार्ट सिटी घोटाले (Smart city scam) मामले में IAS को उनके CEO पद से हटा दिया गया, अब उन्हें उप सचिव मंत्रालय के तौर पर अटैच (attach) किया गया है। बता दें कि मध्य प्रदेश के बहुचर्चित स्मार्ट सिटी घोटाले में स्मार्ट सिटी के CEO IAS आदित्य सिंह (IAS Aditya singh) को नोटिस (notice) भेजा था। IAS से 10 दिनों के अंदर जमीन नीलामी प्रक्रिया से जुड़ी जानकारी मांगी गई थी। वहीं अब इस मामले में संज्ञान लेते हुए तत्काल प्रभाव से उनके पद से हटा दिया है।

बता दें कि बीते दिनों स्मार्ट सिटी मामले में बड़ी घोटाले की खबर सामने आई थी। 100 एकड़ जमीन की करीब 15 सौ करोड़ की नीलामी की जा रही है। ऐसे में जमीन नीलामी की प्रक्रिया में गड़बड़ी और घोटाले को लेकर EOW में शिकायत की गई थी। ईओडब्ल्यू ने प्राथमिक जांच में गड़बड़ी के सबूत मिलने के बाद IAS आदित्य सिंह को नोटिस जारी किया था।

Read More: चुनाव आयोग की वेबसाइट हैक की कोशिश! हज़ारों फर्जी Voter ID card जब्त, MP के 4 Arrest

जानकारी की मानें तो TT Nagar के प्लांट नंबर 79(A), 80 और 83 की बिक्री में गड़बड़ी की बात कही गई है जिसमें बेसिक प्राइस 63.80 करोड, 70.75 करोड़ और 73.96 करोड़ रूपए रखा गया था लेकिन केवल 2 टेंडर आने के बाद ही प्लॉट को बेच दिया गया था। अब इस मामले में मामला गरमा गया है।

जानकारों का कहना है कि कम से कम 3 घंटे आने के बाद ही प्लॉट की बिक्री की जा सकती है लेकिन केवल दो Tender आने के बाद Base Price से केवल आठ 9% की वृद्धि पर जमीनों को बेचा गया है। इसके बाद राज्य शासन को करीब 35 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। वही IAS आदित्य सिंह के हटने के बाद फिलहाल निगम आयुक्त बीएस चौधरी कोलसानी (BS Chudhary kolsani) CEO की अतिरिक्त जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

Bhopal Smart City Scam: शिवराज सरकार की बड़ी कार्रवाई, IAS आदित्य सिंह को पद से हटाया