CM की बड़ी घोषणा, मानदेय में वृद्धि, खाते में 5000 तक बढ़ कर आएगी राशि, मिलेगा एरियर्स, बढ़ाई गई छुट्टियां

बता दें कि उनकी मौजूदा मानदेय 4100 रुपए की राशि से बढ़ाकर ₹5000 प्रतिमाह करने का फैसला लिया गया है।

cpcss

शिमला, डेस्क रिपोर्ट।  राज्य सरकार (state Government) ने एक बार फिर से कर्मचारियों (Employees ) सहित शिक्षकों (teachers) के मानदेय में वृद्धि (honorarium hike) की है। दरअसल कैबिनेट में आज बड़ा फैसला लिया गया है। सीएम ने अध्यक्षता बैठक में कई घोषणा पर मुहर लगाई है। जिसमें महिलाओं को राज्य परिवहन निगम की बसों में यात्रा पर किराए में 50 फीसद छूट का ऐलान किया गया है। इसके अलावा मिड डे मील कर्मचारियों (mid-day-meal employees) के मानदेय बढ़ाने का भी फैसला लिया गया है।

दरअसल मिड डे मील के तहत एक अप्रैल 2022 से सहायिकाओं के मानदेय में ₹900 की वृद्धि का निर्णय लिया गया है। साथ ही प्रारंभिक शिक्षा विभाग में कार्यरत 20650 से अधिक सहायिकाओं को भी मानदेय का लाभ मिलेगा। वहीं अंशकालीन कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि की घोषणा की गई है। बता दें कि उनकी मौजूदा मानदेय 4100 रुपए की राशि से बढ़ाकर ₹5000 प्रतिमाह करने का फैसला लिया गया है। वहीं लंबरदार के मानदेय को भी ₹2300 से बढ़ाकर ₹3200 प्रतिमाह करने का फैसला लिया गया है।

Read More : PM Kisan : 11वीं किस्त पर बड़ी अपडेट, इस दिन खाते में आएंगे 2000 रूपए, E-kyc नहीं करने वाले किसानों को लगेगा झटका

इसके अलावा मुख्यमंत्री गृहणी सुविधा योजना के तहत गैस कनेक्शन में दिए जाने वाले रिफिल के अतिरिक्त दो निशुल्क गैस रिफिल उपलब्ध कराने को भी स्वीकृति दी गई है। साथ ही महिला कर्मचारियों को मातृत्व अवकाश 12 सप्ताह तक करने की भी स्वीकृति दी गई है। इतना ही नहीं एसएमसी के तहत तैनात 2477 शिक्षकों के मानदेय में वृद्धि की घोषणा की गई। दरअसल उनके वृद्धि अप्रैल महीने से होंगे और इसमें ₹1000 बढ़ाने का फैसला लिया गया है।

इसके अलावा हिमाचल प्रदेश कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मुख्यमंत्री बाल सुपोषण योजना को भी मंजूरी दी है। इस योजना के तहत बजट में ₹65 करोड़ रुपए रखा गया है। इस योजना के तहत इस इलाज में डायरिया निमोनिया और एनीमिया जैसी बीमारी से लड़कर बचपन में कुपोषण को कब करने नीति तैयार की गई है।