MP को जल्द मिलेगी बड़ी सौगात, 200 करोड़ की लागत से तैयार होगी परियोजना, कई जिलों को मिलेगा लाभ, जाने खासियत

मल्टी लॉजिस्टिक पार्क के लिए इसे सड़क, रेल और हवाई सेवा से भी जुड़े जाने की योजना तैयार की गई है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) को जल्द बड़ी सौगात मिलने वाली है। रायसेन (Raisen) जिले के इटावा कला में सरकार को 200 करोड़ रूपए की लागत से मल्टी लॉजिस्टिक पार्क (Multi Logistics Park) का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए योजना पर काम किया जा रहा है। रायसेन जिले के लिए यह मध्य प्रदेश को सबसे बड़ी सौगात होगी। मल्टी लॉजिस्टिक पार्क के लिए इसे सड़क, रेल और हवाई सेवा से भी जुड़े जाने की योजना तैयार की गई है।

जिसके लिए भारतीय कंटेनर निगम लिमिटेड भारतीय रेलवे के साथ मिलकर काम किया जाएगा। साथ ही अमेरिकी प्रॉपर्टी कंसल्टेंसी कंपनी जेएलएल को नॉलेज पार्टनर बनाया गया है।दरअसल सरकार द्वारा इसके कार्य के लिए 100 करोड़ जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। मल्टी लॉजिस्टिक पार्क के संचालन का जिम्मा कॉनकोर के पास रहेगा जबकि परिवहन का काम भारतीय रेलवे के पास रहेगा। इस बार इसके लिए कुछ शर्ते तय की गई है। जिस पर स्वीकृति पहले ही दी जा चुकी है।

Read More : लाखों कर्मचारी-पेंशनर्स के लिए अच्छी खबर, DR, Ex-gratia राशि में 13 फीसद की वृद्धि, जून में एरियर्स का होगा भुगतान

मल्टी लॉजिस्टिक्स पार्क की खासियत की बात करें तो इसमें लॉजिस्टिक ऑपरेशंस के अलावा भंडारण की पर्याप्त सुविधा रहेगी सरकार ने 2020 में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के डॉक्यूमेंट में विश्वस्तरीय मल्टीमॉडल लॉजिस्टिक पार्क की बात कही थी जिसके बाद मध्य प्रदेश सरकार द्वारा इस पर बड़ी तैयारी की गई है वहीं तत्वों का अध्ययन करने के अलावा 30 साल तक उद्योग कृषि उत्पादन का आकलन और उत्पादन और उपभोग के क्षेत्र में बेहतर कनेक्टिविटी के लिए मल्टी लॉजिस्टिक पार्क की स्थापना की जाएगी।

इसके अलावा कला में बनने वाले इस बार की खासियत यह होगी किस में सड़क रेल और हवाई यातायात से सीधी कनेक्टिविटी मिलेगी। साथ ही अत्याधुनिक वेयरहाउस के साथ लोडिंग अनलोडिंग काका मशीनों से किया जाएगा। माल को सड़क के बजाय रेलवे से जाने के लिए कंटेनर उपलब्ध होंगे। साथी मटेरियल की विशेष सुविधा तैयार की जाएगी। कंपनियों को कस्टम क्लीयरेंस सेवाएं भी टेस्टिंग फैसिलिटी की सुविधा के साथ उपलब्ध कराई जाएगी।