MP : साढ़े 4 लाख पेंशनर्स के लिए बड़ी खबर, अनिवार्यता समाप्त, नई व्यवस्था से मिलेगा लाभ

वहीं सभी बैंकों को इसे मान्य करने का भी अधिकार होगा।

mp pensioners pension

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के पेंशनर्स (MP Pensioners) के लिए बड़ी खबर है। दरअसल पेंशंस (pension) को बड़ी सुविधा दी गई है। जिसके बाद साढ़े चार लाख पेंशनर्स (pensioners) उसको सीधा लाभ मिलेगा। दरअसल पेंशन संचालनालय (Directorate of Pensions) द्वारा इसके लिए व्यवस्था जारी की जा रही है। जिसके तहत अब पेंशंस किसी भी बैंक की शाखा में जीवन प्रमाण पत्र (life certificate) दे सकेंगे। वहीं सभी बैंकों को इसे मान्य करने का भी अधिकार होगा।

बता दें कि अभी Pension जिस खाता में जाता था, पेंशनर्स को उसी संबंधित शाखा में ही वर्ष में एक बार जीवन प्रमाण पत्र जमा देने की अनिवार्यता थी लेकिन अब इस नियम को बदला जा रहा है। अब Pensioners से किसी भी बैंक खाते में जीवन प्रमाण पत्र दे सकेंगे। वहीं यह बैंक की जिम्मेदारी होगी कि वह उस प्रमाण पत्र को संबंधित शाखा तक पहुंचाएं। जिसके बाद साढ़े 4 लाख पेंशनर्स को बेहद राहत मिलेगी।

Read More: KVS Admission : कक्षा 2 सहित अन्य कक्षाओं के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू, जाने महत्वपूर्ण अपडेट

जानकारी के मुताबिक प्रदेश में साढ़े 4 लाख पेंशनर्स को प्रति वर्ष नवंबर में अपने जीवित होने का प्रमाण पत्र बैंक की शाखा में उपलब्ध कराना अनिवार्य होता है। कोरोना की बंदिशों को देखते हुए इस वर्ष इसे फरवरी तक जमा करवाया गया है। बता दें कि यदि नवंबर में पेंशन की राशि पाने के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा नहीं किए जाते हैं तो जनवरी में पेंशन अटक जाती थी।

इस मामले में Pension संचालक जेके शर्मा का कहना है कि अब आईटी का जमाना है। आईटी के इस समय में एक ही बैंक में जाकर जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की बाध्यता को समाप्त किया जा रहा है। साथ ही नई व्यवस्था शुरू की जा रही है। जिस की सुविधा पेंशनर्स को मिलेगी। साथ ही पेंशनर्स किसी भी शाखा में अब जीवन प्रमाण पत्र जमा कर सकेंगे। वही अब नई व्यवस्था लागू करने के साथ ही बुजुर्ग पेंशनर्स की सावधानी का भी पूरा ख्याल रखा गया है। अब बुजुर्ग पेंशनर्स नजदीकी किसी भी बैंक में अपने जीवित होने का जीवन प्रमाण पत्र उपलब्ध करा सकेंगे।