कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, समय से पहले खाते में आएगी राशि! निकासी के संबंध में निर्देश जारी

ईपीएफओ खातों में ब्याज क्रेडिट इस साल की शुरुआत में जमा होने की उम्मीद है।

epfo

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। ईपीएफओ कर्मचारियों (EPFO ​​employees) के लिए बड़ी अपडेट है। दरअसल इसके लिए नवीन दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। जारी निर्देश के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय कामगारों के लिए पीएफ (PF) के अंतिम निकासी के संबंध में स्पष्टीकरण जारी किए गए। वहीं माना जा रहा है कि इस वर्ष इपीएफ (EPF) की रकम समय से पूर्व कर्मचारियों के खाते में भेजी जाएगी।

भारत (गैर-SSA देशों) के साथ सामाजिक सुरक्षा समझौता नहीं करने वाले देशों से IW के संबंध में पीएफ की अंतिम निकासी के दावों और साथ ही कुछ शिकायतों के साथ विषय के निपटान के संबंध में प्रधान कार्यालय के ध्यान में एक ऑडिट अवलोकन लाया गया है। एक कर्मचारी को ईपीएफ योजना के पैरा 83 के तहत प्रतिस्थापित पैरा 69(1)(ए) निम्नलिखित शर्तों में केवल 58 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद एक गैर-एसएसए देश से एक आईडब्ल्यू द्वारा अंतिम निकासी की अनुमति देता है:-

“69वे परिस्थितियाँ जिनमें निधि में संचय एक अंतर्राष्ट्रीय कर्मचारी को देय होता है। –

  • एक अंतर्राष्ट्रीय कर्मचारी कोष में अपने क्रेडिट में जमा पूरी राशि को वापस ले सकता है –
  • 58 वर्ष की प्राप्ति के बाद किसी भी समय स्थापना में सेवा से सेवानिवृत्त होने पर

इस संबंध में, यह स्पष्ट किया जाता है कि गैर-एसएसए देशों के आईडब्ल्यू 58 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद प्रावधानों के अनुसार अपने पीएफ संचय की पूरी निकासी के लिए पात्र हैं, बशर्ते कि वे कवर किए गए ईपीएफ के रोजगार में बंद हो गए हों। पैरा 83 के तहत प्रतिस्थापित पैरा 69(1)(ए) के तहत गैर एसएसए देशों से आईडब्ल्यू के दावों को उपरोक्त तर्ज पर संसाधित किया जा सकता है।

Read More : कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, सेवा वृद्धि और नियुक्ति को लेकर आदेश जारी, 31 मई तक पूरा होगा कार्य

इधर कर्मचारी भविष्य निधि संगठन EPFO ने फरवरी में 14 लाख से अधिक सदस्यों को जोड़ा गया है। बता दें कि एक साल पहले इसी महीने में नामांकित 12.37 लाख से यह आंकड़ा 4 प्रतिशत अधिक है। श्रम मंत्रालय ने पिछले महीने एक बयान में कहा कि आज जारी ईपीएफओ के अस्थायी पेरोल डेटा से पता चलता है कि EPFO ने फरवरी, 2022 में 14.12 लाख शुद्ध ग्राहक जोड़े हैं।वहीँ विभिन्न मीडिया रिपोर्टों के अनुसार ईपीएफओ खातों में ब्याज क्रेडिट इस साल की शुरुआत में जमा होने की उम्मीद है।

भारत में लगभग सभी वेतनभोगी व्यक्तियों का कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में खाता है, जो उनकी सेवानिवृत्ति के बाद आय के स्रोत के रूप में कार्य करता है। हर महीने, कर्मचारी के वेतन से एक निश्चित राशि काट ली जाती है, जो सेवानिवृत्ति के बाद उसे जमा कर दी जाती है। इतना ही पैसा कर्मचारी की कंपनी भी हर महीने मुहैया कराती है।

EPFO वर्तमान में 8.5 प्रतिशत प्रतिवर्ष की ब्याज दर प्रदान करता है। जल्द ही क्रेडिट मिलने की उम्मीद है। इस दौरान अपना पीएफ बैलेंस चेक करना जरूरी होगा। आप इसे कई तरह से चेक कर सकते हैं। ईपीएफओ प्लेटफॉर्म पर और एसएमएस के जरिए पीएफ बैलेंस कैसे चेक करें, यहां बताया गया है।

ईपीएफओ वेबसाइट के जरिए ईपीएफओ बैलेंस कैसे चेक करें

  • आप अपने सक्रिय यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) का उपयोग करके सरकार द्वारा चलाए जा रहे ईपीएफओ पोर्टल का उपयोग करके अपने पीएफ बैलेंस की जांच कर सकेंगे। आप इस पोर्टल का उपयोग करके अपनी ई-पासबुक को डाउनलोड और प्रिंट भी कर सकते हैं।
  • इसके लिए आपको www.epfindia.gov.in पर लॉग इन करना होगा और ‘हमारी सेवाएं’ ड्रॉपडाउन मेन्यू के तहत ‘कर्मचारियों के लिए’ विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर, ‘सर्विसेज’ के तहत ‘सदस्य पासबुक’ विकल्प पर क्लिक करें, जहां आपको अपनी पासबुक देखने के लिए अपना यूएएन नंबर और पासवर्ड देना होगा।
  • इस सेवा को एक्सेस करने के लिए आपके पास एक सक्रिय यूएएन होना चाहिए और यह उपलब्ध नहीं होगा यदि आपका यूनिवर्सल अकाउंट नंबर आपके नियोक्ता द्वारा सक्रिय नहीं किया गया है।