कोरोना कर्फ्यू पर बड़ी खबर, नरोत्तम आज लेंगे बैठक, अनलॉक का ड्राफ्ट होगा तैयार

हालांकि मुख्यमंत्री ने यह साफ कर दिया है कि बड़ी राजनीतिक सभाएं, सांस्कृतिक, सामाजिक व धार्मिक कार्यक्रम फिलहाल बंद रहेंगे। इसके साथ ही भीड़भाड़ वाले स्थानों जैसे मॉल, रेस्टोरेंट्स, जिम या स्विमिंग पूल भी अभी फिलहाल बंद रखे जाएंगे।

गृह मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। प्रदेश में लगभग डेढ़ महीने से चल रहे कोरोना कर्फ्यू (corona curfew) की खोलने की तैयारी है। मुख्यमंत्री (CM SHivraj) ने बुधवार की शाम इस बात के संकेत दिए थे। गुरुवार को इस संबंध में गृह मंत्री नरोत्तम (Narottam) की अध्यक्षता में कैबिनेट (cabinet) की सब कमेटी इसका प्लान तैयार करेंगी। कोरोना के कम होते संक्रमण के चलते मध्य प्रदेश की सरकार अब अनलॉक प्लान वन (Unlock Plan 1) 1 जून से लागू करने जा रही है। प्रदेश के 6 जिलों में संक्रमण की दर 5% से कम रहने के चलते पहले ही अनलॉक प्लान लागू हो चुका है। लेकिन अब इसे पूरे मध्यप्रदेश में लागू किया जाएगा। सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि जिला स्तर पर बनी क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार क्या खुलना, क्या बंद रहना इस बात का निर्णय लेगी।

“कोरोना के साथ जीना अब जिंदगी का एक हिस्सा है और इसे जितनी जल्दी स्वीकार कर लिया जाये, उतना ही ठीक है। पर्याप्त सैनिटाइजिंग व्यवस्था, सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क और वैक्सीनेशन ही फिलहाल इससे बचाव के उपाय हैं।” मुख्यमंत्री ने बुधवार को प्रदेश को संबोधित करते हुए यह महत्वपूर्ण बात कही और प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू एक जून से खोले जाने के संकेत भी दिए। हालांकि मुख्यमंत्री ने यह साफ कर दिया है कि बड़ी राजनीतिक सभाएं, सांस्कृतिक, सामाजिक व धार्मिक कार्यक्रम फिलहाल बंद रहेंगे। इसके साथ ही भीड़भाड़ वाले स्थानों जैसे मॉल, रेस्टोरेंट्स, जिम या स्विमिंग पूल भी अभी फिलहाल बंद रखे जाएंगे। बड़े मेलों के साथ-साथ स्थानीय स्तर के मेलों पर भी रोक रहेगी।

Read More: कर्मचारियों को लेकर शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, वित्त विभाग ने जारी किया आदेश

छोटे छोटे बाजारों को कोरोना प्रोटोकॉल के तहत खोलने की तैयारी है लेकिन दुकानदारों की जिम्मेदारी होगी कि वे खुद मास्क लगाएं और बिना मास्क लगाए आए ग्राहक को सामान न दे। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने और कोरोना प्रोटोकॉल को तोड़ने वाले दुकानदारों के खिलाफ जुर्माने के साथ-साथ दुकान सील करने जैसा दंड भी दिया जा सकता है। इसके साथ ही राजस्थान, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के साथ लगी आवागमन पर रोक भी खोली जा सकती है। शादी विवाह में उपस्थिति सीमित करने के साथ-साथ कोरोना टेस्ट को भी आवश्यक किया जाएगा।

कोरोना कर्फ्यू को लेकर सब कमेटी का निर्णय एक प्लान तैयार करेगा। अंतिम स्तर पर निर्णय लेने के लिए ग्राम, वार्ड,ब्लाक, नगर और जिला स्तर की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी यह निर्णय करेंगे कि किस गतिविधि को शुरू रखना है और किसे फिलहाल बंद रखना है