सरकार की बड़ी तैयारी, साढ़े 5 हजार करोड़ की लागत से पूरी होगी परियोजना, कई जिलों को मिलेगा लाभ

इसके साथ ही निर्माण कार्य में नवीन तकनीकी और नवाचार को अपनाया जाएगा।

mp shivraj government

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। MP लोक निर्माण विभाग (PWD) इस वित्त वर्ष में साढ़े पाँच हजार करोड़ रूपये की लागत से एक हजार निर्माण कार्य करायेगा। इनमें प्रमुख रूप से जिला सड़क मार्गों का मजबूतीकरण (strengthening of roadways) और अतिवृष्टि (excess rain) से क्षतिग्रस्त संरचनाओं के पुनर्निमाण कार्य को प्राथमिकता दी जाएगी। प्रमुख सचिव नीरज मंडलोई ने सभी कार्यों के प्राक्कलन और डी.पी.आर. (DPR) प्रमुख अभियंताओं के माध्यम से राज्य शासन को भेजे जाने के निर्देश दिये हैं।

प्रमुख सचिव मंडलाई ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष 2022-23 के बजट में अपरीक्षित मद में साढ़े पाँच हजार करोड़ रूपये का आवंटन उपलब्ध कराया गया है। इसमें विभिन्न श्रेणी, योजना मद के कार्य कराये जाना है। सभी मुख्य अभियंता अप्रैल माह में शामिल कार्यों के प्राक्कलन और डी.पी.आर. विस्तृत सर्वेक्षण रिपोर्ट प्रमुख अभियंता के माध्यम से भेजना सुनिश्चित करें।

Read More :  PM Awas : हितग्राहियों को जल्द मिलेगा लाभ, तीसरी किश्त के 27 करोड़ 36 लाख रुपये जारी

इसके साथ ही निर्माण कार्य में नवीन तकनीकी और नवाचार को अपनाया जाएगा। साथ ही विभागीय इंजीनियर को राष्ट्रीय संस्थानों में प्रशिक्षण उपलब्ध कराए जाएंगे। लोक निर्माण विभाग में 100 करोड़ से अधिक की लागत के 70 से अधिक प्रोजेक्ट की विशेष निगरानी मुख्यमंत्री डैशबोर्ड के माध्यम से की जा रही है। वहीं प्रदेश में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की विचारधारा को सुदृढ़ करने के लिए कई नवीन विकास भी किए जाएंगे।

वहीं सड़क पुल भवन के निर्माण में गुणवत्ता नियंत्रण भी आवश्यक है। जिसके लिए शासकीय प्रयोगशाला में समय-समय पर इसकी सामग्री की जांच कराई जाएगी। साथ ही निरीक्षण कृपया को भी पूरा किया जाएगा। मंत्री द्वारा अधिकारियों को निरीक्षण रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा भारत सरकार की तर्ज पर ही प्रदेश में बड़े पुलों के निर्माण के लिए बीएपीएस मॉडल पर विचार किया जा रहा है आधुनिक तकनीक से लैस निर्माण एजेंसी उसे निर्माण और संधारण का कार्य कराया जाएगा।