लाखों पेंशनर्स के लिए बड़ी अपडेट, जल्द पहुंचेगी खाते में राशि, सरकार के दिशा-निर्देश जारी

हालांकि अब उसके खाते में राशि का भुगतान किया जाएगा।

mp pensioners pension

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पेंशनर्स (pensioners) के पेंशन (pension) पर बड़ी अपडेट सामने आई है। दरअसल पेंशनर्स ने अपने पहचान पूरी कर ली है और वार्षिक पहचान पूरी (annual identification completed) करने के बाद भी उनके खाते में अप्रैल महीने के पेंशन की राशि नहीं पहुंची है, उन्हें जल्द पेंशन का भुगतान किया जाएगा। 5 और 6 मई को उनके खाते में पेंशन की राशि भेजी जाएगी। इस मामले में सरकार ने कहा कि डिजिटलाइजेशन (digitization) के कारण शुरुआती दिक्कत देखने को मिली थी। हालांकि अब उसके खाते में राशि का भुगतान किया जाएगा।

वहीं अप्रैल महीने में सशस्त्र बलों के पेंशन का भुगतान नहीं करने के मामले में मीडिया में उठ रहे सवाल का भी केंद्र सरकार ने जवाब दिया। दरअसल केंद्र सरकार ने सभी सेवानिवृत्त लोगों (retired employees) को वार्षिक पहचान पत्र पूरी करने के लिए कहा है। केंद्र सरकार की मानें तो अब तक ३.3 लाख पेंशनभोगी की वार्षिक पहचान अपडेट नहीं हो पाई है। जिस कारण से पेंशन भुगतान में देरी का सामना करना पड़ रहा है।

केंद्र सरकार का कहना है कि जल्द से जल्द पेंशनर्स अपनी वार्षिक पहचान पूरी करें अन्यथा उनके पेंशन की राशि किसी न किसी वजह से अटकी रहेगी और उन्हें समय पर भुगतान करने में दिक्कत का सामना करना पड़ेगा। अप्रैल में सशस्त्र बलों के पेंशन का भुगतान नहीं किया जा रहा था, केंद्र सरकार ने गुरुवार को सभी सेवानिवृत्त लोगों को वार्षिक पहचान पूरी करने के लिए कहा है। पेंशनर्स के लिए वार्षिक पहचान पूरी करना अनिवार्य है। वहीँ ये आमतौर पर नवंबर में सभी बैंकों द्वारा किया जाता है, जो पेंशन संवितरण एजेंटों के रूप में काम करते हैं।

Read More : स्कूल शिक्षकों-कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, रिटायरमेंट उम्र पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, वेतन पर इस तरह मिलेगा लाभ

रक्षा मंत्रालय ने बिना किसी अतिरिक्त देरी के सभी लंबित पेंशन प्राप्त करने की अनुमति देने वाले खंड पर “एकमुश्त असाधारण छूट” दी है। रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि कोरोना स्थिति के कारण केंद्र सरकार ने 30 नवंबर 2021 को 31 मार्च 2022 तक वार्षिक पहचान के लिए समय सीमा बढ़ा दी थी।एक सरकारी बयान के अनुसार हालांकि, अप्रैल 2022 के महीने के लिए पेंशन की प्रक्रिया के दौरान पता चला कि लगभग 3.3 लाख पेंशनभोगियों की वार्षिक पहचान अपडेट नहीं की गई थी।

रक्षा मंत्रालय ने आगे कहा कि मीडिया और सोशल मीडिया पर अप्रैल 2022 में रक्षा सेवानिवृत्त लोगों को पेंशन का भुगतान न करने के बारे में चिंता व्यक्त की गई है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा सभी पेंशनभोगियों को मासिक पेंशन की प्राप्ति जारी रखने के लिए वार्षिक पहचान पूरी करनी होगी, जो आमतौर पर नवंबर 2021 के महीने में पेंशन वितरण एजेंसियों के रूप में काम करने वाले सभी बैंकों द्वारा की जाती है।”

Read More : MP News : मोदी सरकार का मध्य प्रदेश को बड़ा तोहफा, 105 करोड़ रुपए मंजूर, इन जिलों को मिलेगा लाभ

वहीँ पूर्व रक्षा कर्मचारी जिन्हें अभी तक अपनी अप्रैल पेंशन नहीं मिली है, उन्हें सरकार के अनुसार आज पेंशन कि राशि का भुगतान किया जायेगा। सेवानिवृत्ति लाभ 58,275 पूर्व सैनिकों के बैंक खातों में जमा किया जाएगा, जो वित्तीय कठिनाइयों का सामना कर रहे थे क्योंकि उन्हें अप्रैल 2022 के लिए अपनी पेंशन नहीं मिली थी। रक्षा मंत्रालय के अनुसार, सेवानिवृत्त लोगों द्वारा अनुभव की गई अप्रत्याशित देरी, वर्तमान डिजिटलीकरण और उन्नयन प्रक्रिया के दौरान शुरुआती समस्याओं के कारण हुई थी।

वहीँ एक “एकमुश्त असाधारण छूट” को अधिकृत किया गया है, जिससे सभी लंबित पेंशन बिना किसी अतिरिक्त देरी के प्राप्त हो सकें। SPARSH, रक्षा कर्मियों के लिए सरकार की डिजिटल पेंशन वितरण प्रणाली, सभी सेवानिवृत्त लोगों को उनकी मासिक पेंशन प्राप्त करने के लिए हर साल पहचान पूरी करने की आवश्यकता होती है। यह आम तौर पर नवंबर में पेंशन वितरण एजेंसियों के रूप में काम करने वाले सभी बैंकों द्वारा किया जाता है, हालांकि, कोरोना संकट के कारण, सरकार ने समय सीमा 31 मार्च, 2022 तक बढ़ा दी है।