CBSE Board 2021-22: मंडल ने 10वीं-12वीं छात्रों को दी बड़ी राहत, लिया ये बड़ा फैसला

CBSE ने कहा कि सभी छात्रों और स्कूलों से अनुरोध है कि वे cbse की वेबसाइट के संपर्क में रहें। जैसे ही छात्रों को इस संबंध में सूचित किया जाता है, वे अपने स्कूल को शेड्यूल के भीतर अनुरोध कर सकते हैं

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा मंडल (central board of secondary education) 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा से पहले छात्रों को बड़ी राहत दी है। दरअसल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा आधिकारिक वेबसाइट (official website) पर एक सर्कुलर (circular) जारी किया गया। जिसके मुताबिक छात्रों को आगामी बोर्ड परीक्षा के लिए अपने परीक्षा केंद्रों (exam centre) के शहरों को बदलने की अनुमति दी जाएगी।

CBSE ने कहा कि बोर्ड के संज्ञान में आया है कि कुछ छात्र शहर में नहीं हैं, जहां उनका स्कूल है और उन्होंने अपने स्कूल के माध्यम से परीक्षा केंद्र शहर बदलने का अनुरोध किया है। जिसके बाद बोर्ड ने फैसला किया है कि छत्रों को परीक्षा केंद्र शहर बदलने की अनुमति दी जाएगी।

Read More: MP News : प्रमोशन में आरक्षण को लेकर केंद्रीय मंत्री का बड़ा बयान, CM Shivraj के साथ करेंगे बैठक

CBSE ने कहा कि सभी छात्रों और स्कूलों से अनुरोध है कि वे cbse की वेबसाइट के संपर्क में रहें। जैसे ही छात्रों को इस संबंध में सूचित किया जाता है, वे अपने स्कूल को शेड्यूल के भीतर अनुरोध कर सकते हैं जो कम अवधि का होगा। सर्कुलर में आगे कहा गया है कि शेड्यूल के बाद परीक्षा शहर बदलने का कोई अनुरोध स्वीकार नहीं किया जाएगा। CBSE ने 18 अक्टूबर को कक्षा 10 और 12 के लिए टर्म -1 बोर्ड परीक्षा 2021-22 के लिए डेट शीट जारी की। कक्षा 10 और 12 के लिए टर्म 1 बोर्ड परीक्षा CBSE द्वारा नवंबर-दिसंबर में ऑफ़लाइन आयोजित की जाएगी।

टर्म 1 बोर्ड कक्षा 10 और 12 के लिए सीबीएसई डेट शीट आधिकारिक वेबसाइट- cbse.gov.in पर उपलब्ध है। टर्म 1 बोर्ड परीक्षा 2021-22 के लिए CBSE डेट शीट के अनुसार, कक्षा 10 की परीक्षा 30 नवंबर से और कक्षा 12 की परीक्षा 1 दिसंबर से टर्म 1 बोर्ड परीक्षा के लिए है। CBSE टर्म 1 बोर्ड परीक्षा वस्तुनिष्ठ प्रकार की परीक्षा होगी और परीक्षणों की अवधि 90 मिनट होगी। सर्दी का मौसम होने के कारण बोर्ड परीक्षाएं सुबह 11.30 बजे से शुरू होंगी।

एक बार टर्म -1 परीक्षा (Term-1 Exam) समाप्त होने के बाद, अंक पत्र के रूप में परिणाम घोषित किए जाएंगे। हालांकि, CBSE टर्म 1 बोर्ड परीक्षा 2021-22 के बाद किसी भी छात्र को ‘पास’ और ‘एसेंशियल रिपीट’ श्रेणियों में नहीं रखा जाएगा। CBSE टर्म 1 बोर्ड परीक्षा 2021-22 के अंतिम परिणाम पहली और दूसरी अवधि की परीक्षाओं के बाद घोषित किए जाएंगे।