CBSE Board Exam 2021-22: 12वीं परीक्षा के बीच बड़ा बदलाव, OMR सीट को लेकर बदले नियम, छात्रों के लिए जानना जरूरी

CBSE Board Exam 2021-22: केंद्र अधीक्षक और पर्यवेक्षक सील किए गए पार्सल पर हस्ताक्षर करेंगे और पैकिंग के समय का उल्लेख करेंगे।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। CBSE 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा (CBSE Board Exam 2021-22)  के परीक्षार्थियों के लिए नए नियम और निर्देश लागू किए हैं। दरअसल OMR सीट को लेकर CBSE द्वारा नियम में बदलाव किया गया। वहीं नए निर्देश जारी किए गए हैं। जिसके मुताबिक छात्रों की परीक्षा के तुरंत बाद मूल्यांकन प्रक्रिया (Evaluation Process) को बंद करने का फैसला किया गया है।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने कहा कि 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए परीक्षा के दिन ही परीक्षा केंद्रों पर OMR Sheet के Evaluation को रोकने का फैसला किया है। यह फैसला 16 दिसंबर से प्रभावी होगा। हालाँकि, बोर्ड ने परीक्षा के दौरान मानदंडों में बदलाव के लिए कोई कारण नहीं बताया गया है।

परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने कहा परीक्षा केंद्र में उसी दिन मूल्यांकन की प्रक्रिया 16 दिसंबर से बंद की जा रही है। सभी केंद्र अधीक्षक प्रेक्षक की उपस्थिति में परीक्षा समाप्त होने के 15 मिनट के भीतर ओएमआर शीट को पैक कर सील कर देंगे। संयम भारद्वाज ने कहा कि एक बार ओएमआर पैक और सील हो जाने के बाद, इसे संबंधित क्षेत्रीय कार्यालय को भेज दिया जाएगा।

Read More : भाजपा विधायक ने किया पुलिस थाने का औचक निरीक्षण, थाना प्रभारी को दिए रात्रि गश्त बढ़ाने व अन्य महत्वपूर्ण निर्देश

संयम भारद्वाज ने कहा कि प्रेषण के बाद, प्रेषण की रसीद भी अभ्यास के अनुसार अपलोड की जाएगी। इसके अलावा केंद्र अधीक्षक और पर्यवेक्षक सील किए गए पार्सल पर हस्ताक्षर करेंगे और पैकिंग के समय का उल्लेख करेंगे। अब तक, OMR Answer sheet का पहले स्कूल के शिक्षकों द्वारा परीक्षा केंद्र पर मूल्यांकन किया जाता था और फिर डिजिटल मूल्यांकन के लिए भेजा जाता था।

इसके अलावा CBSE ने OMR शीट को लेकर नए निर्देश जारी किये हैं, जिसके मुताबिक

  • CBSE की ओर से सबसे पहले स्कूलों को पासवर्ड मेल भेजे जाएंगे। ऑपरेशन कोड सुबह 10:45 बजे भेजा जाएगा।
  • केंद्र अधीक्षक यह सुनिश्चित करेंगे कि परीक्षा में शामिल होने वाले सभी छात्र प्रवेश समय यानी सुबह 10:45 बजे तक परीक्षा केंद्र के अंदर हों।
  • यदि कोई छात्र परीक्षा केंद्र पर देरी से पहुंच रहा है तो उसकी अच्छी तरह से तलाशी ली जानी चाहिए।
  • सबसे पहले विद्यालयों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि प्रश्न पत्र निर्धारित अवधि के भीतर मुद्रित किया जाना चाहिए और तदनुसार, उन्हें मुद्रण के लिए आवश्यक उपकरणों की व्यवस्था करनी होगी।
  • यदि परीक्षा प्रारंभ होने में किसी प्रकार की देरी होती है तो विद्यार्थियों को खोए हुए समय के बराबर अतिरिक्त समय दिया जाना चाहिए
  • परीक्षा केंद्र में उसी दिन मूल्यांकन की प्रथा 16/12/2021 से बंद की जा रही है।
  • सभी केंद्र अधीक्षक परीक्षा समाप्त होने के 15 मिनट के भीतर प्रेक्षक की उपस्थिति में ओएमआर शीट को पैक कर सील कर देंगे।
  • केंद्र अधीक्षक और प्रेक्षक सीलबंद पार्सल पर आहें भरेंगे और पैकिंग के समय का भी उल्लेख करेंगे।
  • एक बार ओएमआर सील हो जाने के बाद उसे संबंधित क्षेत्रीय कार्यालय को भेज दिया जाएगा।
  • प्रेषण के बाद, प्रेषण की रसीद भी अभ्यास के अनुसार अपलोड की जाएगी