चंचला ने ऊंची कर दी Jharkhand की नाक, राज्य से पहली खिलाड़ी जो इस मुकाबले में करेंगी भारत का प्रतिनिधित्व

" मैं अपने परिवार की पहली ऐसी सदस्य हूं जो विदेश जा रही है। मुझे बेहद खुशी है कि मैं एक वैश्विक अखाड़े में अपने देश का प्रतिनिधित्व करूंगी।"

jharkhand

झारखंड, डेस्क रिपोर्ट। चंचला कुमारी, झारखंड (jharkhand) की 14 वर्षीय आदिवासी बालिका (tribal girl) जीवन की सभी कठिनाइयों से लड़ते झगड़ते आखिरकार अपने सपने (dream) को पूरा करने की ओर एक बड़ा कदम उठा चुकी है। चंचला 19 और 25 जुलाई को हंगरी (hungary), बुडापेस्ट में होने वाली सब-जूनियर वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप (sub-junior world wrestling championship) में भारत (india) का प्रतिनिधित्व करेंगी। आपको जानकर खुशी होगी कि चंचला झारखंड स्टेट स्पोर्ट्स प्रमोशन सोसाइटी में कैडेट रहीं हैं और झारखंड राज्य से पहली खिलाड़ी हैं जिन्होंने इस चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई किया है।

यह भी पढ़ें… CM Helpline : शिकायतों का बेहतर निराकरण, MP का ये जिला रहा अव्वल, जारी हुई ग्रेडिंग

चंचला ने कहा, ” मैं अपने परिवार की पहली ऐसी सदस्य हूं जो विदेश जा रही है। मुझे बेहद खुशी है कि मैं एक वैश्विक अखाड़े में अपने देश का प्रतिनिधित्व करूंगी।” बता दें कि इसके पहले चंचला ने ट्रायल्स को क्वालीफाई किया था जिनका आयोजन दिल्ली में किया गया था।

चंचला के पिता एक छोटे किसान हैं साथ ही वे एक नलसाज के तौर पर भी काम करते हैं। वे बताते हैं कि वे चाहते थे कि चंचला आगे की पढ़ाई कर लेकिन पैसे की किल्लत के चलते वो अपनी पढ़ाई आगे जारो नहीं कर सकी। उसने अपने जीवन के संघर्षों को एक चुनौती के तौर पर लिया और खेल में अपना करियर बनाने के लिए निकल पड़ी।

यह भी पढ़ें… Gold Silver Rate: लम्बे समय बाद सोने चांदी की कीमतें बढ़ीं, जानिए आज का भाव

सबसे पहले चंचला ने जेएसएसपीएस के ट्रायल्स क्वालीफाई किये। उसे खेलो में सबसे ज़्यादा दिलचस्पी कुश्ती में थी इस्लिर उसने कुश्ती में अपना भविष्य बनाने का निर्णय लिया।