CM बोले- जल्द लॉन्च होगी MP में स्टार्टअप्स पॉलिसी, मिलेगा रोजगार, गेहूं निर्यात पर भी बड़ा फैसला

मध्यप्रदेश में हम हर माह में 1 दिन रोजगार दिवस का आयोजन करते हैं। हमारा प्रयास होता है कि हम कम से कम 2 लाख स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराएं।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आज शनिवार 23 अप्रैल 2022 को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर कई मुद्दों पर चर्चा की और कई बड़े फैसले लिए।चर्चा के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर बताया कि इस बार हम 20 लाख मीट्रिक टन गेहूं और निर्यात कर सकते है। केंद्र और राज्य दोनों मिलकर रोजगार के अवसर बढ़ाएंगे,  इस पर भी बात हुई है। इंदौर में जनवरी में इन्वेस्टर समिट होगी, मई में मध्यप्रदेश में स्टार्टअप्स की पॉलिसी लॉन्च करेंगे, इसमें प्रधानमंत्री जी वर्चुअली जुड़ेंगे।

यह भी पढ़े.. शिल्पा शेट्टी हुई रोहित शेट्टी की कॉप टीम में शामिल, OTT प्लेटफॉर्म पर पहली बार आएंगी नजर

सीएम शिवराज ने बताया कि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी से भेंट की और मध्यप्रदेश में चल रहे विकास और जनकल्याण के कार्यों की जानकारी दी। प्रधानमंत्री जी मैन ऑफ आइडियाज हैं। उनसे कई तरह के सुझाव और मार्गदर्शन प्राप्त हुआ है। उनको हम मध्यप्रदेश में क्रियान्वित करेंगे।मध्यप्रदेश में गेहूं का भंडार है। प्रदेश का गेहूं निर्यात हो उसके बारे में चर्चा हुई। मुझे खुशी है कि 2.40 लाख मीट्रिक टन गेहूं निर्यात के लिए जा चुका है। हमने एक्सपोर्ट सेल बनाया है जो निरंतर कार्य कर रहा है। लगभग 20 लाख मीट्रिक टन और एक्सपोर्ट हो सकता है उस पर भी चर्चा हुई। मध्यप्रदेश में हम हर माह में 1 दिन रोजगार दिवस का आयोजन करते हैं। हमारा प्रयास होता है कि हम कम से कम 2 लाख स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराएं।

सीएम शिवराज ने बताया कि  मुझे खुशी है कि विगत 3 रोजगार दिवसों में हम 13.6 लाख से अधिक लोगों को स्व-रोजगार से जोड़ने हेतु ऋण उपलब्ध करा पाये हैं।मैंने माननीय प्रधानमंत्री जी को अवगत कराया कि ग्राम व नगरों का जन्मदिन और गौरव दिवस मनाने की जो शुरुआत हमने की थी उसके तहत अब तक 15 हज़ार से अधिक गांव और 31 नगरीय निकायों का गौरव दिवस सम्पन्न हो चुका है। केंद्र सरकार की फ्लैगशिप स्कीम में मध्यप्रदेश का प्रदर्शन बेहतर है। इन योजनाओं के बारे में भी प्रधानमंत्री जी को अवगत कराया।प्रधानमंत्री जी के आह्वान पर मध्यप्रदेश में 3,800 अमृत सरोवरों का निर्माण किया जा रहा है और 15 अगस्त को ध्वजारोहण भी इन्हीं स्थलों पर किया जाएगा।

सीएम शिवराज ने बताया कि  प्रधानमंत्री जी को ई-रूपी कार्ड की भी जानकारी प्रदान दी। कृषि विभाग और शिक्षा विभाग की विभिन्न शासकीय योजनाओं में ई-रूपी का उपयोग मध्यप्रदेश में प्रारंभ किया जाएगा। प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन के आधार पर मध्य प्रदेश में कई नई योजनाओं को शुरू करेंगे, पुरानी योजनाओं को अपडेट करेंगे।प्रधानमंत्री जी और भारत सरकार का हर संभव सहयोग मध्य प्रदेश की प्रगति और विकास के लिए प्राप्त हो रहा है। कृषि के विविधीकरण के लिए प्रधानमंत्री जी ने आव्हान किया था, इसके लिए हम मध्यप्रदेश में एक नीति बना रहे हैं ताकि किसानों को उनकी फसलों के और भी बेहतर दाम प्राप्त हो सके।अनेक योजनाओं पर आज चर्चा हुई प्रधानमंत्री जी से चर्चा हुई, कई विषयों पर उनका मार्गदर्शन भी मिला

जनवरी में होगी इंवेस्टर्स समिट

सीएम शिवराज ने बताया कि  पहले हम मध्यप्रदेश में 4,5 और 6 नवंबर को इंवेस्टर समिट करना चाहते थे। लेकिन अब उसकी तिथि बदल रहे हैं। मैंने प्रधानमंत्री जी से आग्रह किया कि इस बार प्रवासी भारतीय दिवस मध्यप्रदेश में आयोजित किया जाए। 9 जनवरी को इंदौर में वह आयोजित होगा।इंवेस्टर्स समिट 7 और 8 जनवरी को होगी।मैंने प्रधानमंत्री जी से उज्जैन में महाकाल मंदिर के नवीन परिसर के लोकार्पण के लिए निवेदन किया। मुझे प्रसन्नता है कि प्रधानमंत्री  मोदी जी इस परिसर का लोकार्पण करेंगे।मध्यप्रदेश में स्टार्टअप्स तेजी से उभर रहे हैं। मध्यप्रदेश ने स्टार्टअप्स की पॉलिसी बनाई है। उनको हम लांच करना चाहते हैं। उसके लिए भी प्रधानमंत्री जी से समय मांगा है। इस कार्यक्रम से वह वर्चुअली जुड़ेंगे।