शिक्षकों के लिए सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, परफॉरमेंस के आधार पर मिलेगा बड़ा लाभ, अधिकारियों को निर्देश

CM शिवराज (CM Shivraj) ने आज शिक्षकों के लिए बड़ी घोषणा की है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। CM शिवराज (CM Shivraj) ने आज शिक्षकों (MP Teachers) के लिए बड़ी घोषणा की है। दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे 2021 (National Achievement Survey 2021) के विश्लेषण और भावी रणनीति पर 4 जून को सुबह 10 बजे कुशाभाऊ ठाकरे अंतर्राष्ट्रीय सभागार में कार्यशाला का शुभारंभ किया गया।

कार्यशाला में राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे 2021 में मध्यप्रदेश की उपलब्धियों पर संक्षिप्त प्रस्तुतिकरण और लघु फिल्म का प्रदर्शन किया गया। सीएम शिवराज ने कुशाभाऊ ठाकरे अंतर्राष्ट्रीय सभागार,भोपाल में ‘राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे 2021’ के विश्लेषण और भावी रणनीति पर आयोजित कार्यशाला में शिक्षकों से संवाद कर उन्हें इस उपलब्धि पर बधाई दी। सीएम शिवराज ने कहा कि आज मैं हमारे शिक्षा मंत्री जी तथा सभी शिक्षक अध्यापक मित्रों व पूरी टीम को हृदय से बधाई देना चाहता हूं। NAS सर्वे में मध्यप्रदेश बहुत आगे बढ़ा है, लेकिन यह पड़ाव है मंजिल हमारी अभी और आगे है। हम पहले स्थान पर आने की कोशिश करेंगे। हमारा लक्ष्य है ‘शिक्षा में गुणवत्ता’।

Read More : इन कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, मिलेगा सातवें वेतनमान का लाभ, DA में भी 5% वृद्धि

दरअसल राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे पर आयोजित कार्यशाला के दौरान सीएम शिवराज ने कहा कि जो शिक्षक अच्छा रिजल्ट लेकर आएंगे, उन्हें सम्मान के साथ साथ वेतन वृद्धि का भी लाभ दिया जाएगा। सीएम शिवराज ने कहा कि जिनकी कक्षाओं के बच्चे टॉप करेंगे, जिन शिक्षकों के बच्चों का अच्छा रिजल्ट होगा। उन शिक्षकों का सम्मान किया जाएगा और यदि कोई कानूनी अड़चन सामने नहीं आती है तो ऐसे शिक्षकों को वेतन वृद्धि भी दी जाएगी।

सीएम शिवराज ने स्कूल शिक्षा विभाग के सभी अधिकारियों को महत्वपूर्ण निर्देश दिए। निर्देश देते हुए सीएम ने कहा कि सरकार की परफॉर्मेंस के आधार पर शिक्षकों को प्रोत्साहित किया जाए। इसके अलावा वेतन वृद्धि लगाने का भी प्रस्ताव तैयार करें। जिन कक्षाओं के रिजल्ट अच्छे आएंगे, उन शिक्षकों का सम्मान किया जाएगा। उनके लिए सम्मान समारोह का भी आयोजन किया जाएगा।

सीएम शिवराज ने कहा बच्चे तो माटी के लोंदे होते हैं, हम इन्हें जैसे गढ़ेंगे, वे वैसे ही बनेंगे। कर्मठता, ईमानदारी, देशभक्ति, अनुशासन जैसे भाव इनमें होने चाहिये। इससे ये भारत के निर्माण में अपनी अधिक उपयोगिता सिद्ध कर सकेंगे। सीएम ने कहा बेहतर प्रदर्शन करने वाले शिक्षकों को प्रदेश, जिले और ब्लॉक स्तर पर सम्मानित करने का कार्यक्रम होना चाहिये। इससे शिक्षकों को श्रेष्ठ करने की प्रेरणा मिलेगी।

सीएम शिवराज ने राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे की कार्यशाला में कहा कि सरकारी स्कूल में समाज के प्रोफेशनल को जोड़ने का कार्य भी किया जाना चाहिए। महीने में 1 दिन क्लास लेने अगर प्रोफेशनल लोग आएंगे तो इससे बच्चों को काफी कुछ नया सीखने को भी मिलेगा।