नगरीय निकायों को मिलेगी बड़ी सौगात, सीएम शिवराज 18 अप्रैल को अंतरित करेंगे 931 करोड़ 50 लाख रूपए, मिलेगा लाभ

नगर निकायों की शासकीय योजनाओं को तेजी मिले। इसके लिए राशि अंतरित की जाएगी।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) ने प्रदेश के सभी नगरीय निकायों (MP Urban bodies) को 18 अप्रैल को बड़ा तोहफा देंगे। दरअसल सिंगल क्लिक (single click) के माध्यम से सभी नगर निकाय 931 करोड़ 50 लाख रुपए की राशि अंतरित की जाएगी। वही इन राशियों का उपयोग विभिन्न निकाय विकास सहित स्वच्छता, पेयजल योजना से अन्य आवश्यकताओं पर खर्च किया जाएगा।

वही विस्तृत जानकारी के मुताबिक इनमें से ऐसे शहर जिनकी जनसंख्या 10 लाख से अधिक है और नगर निकायों को 432 करोड़ पचास लाख रुपए की राशि अंतरित की जाएगी जबकि 10 लाख से कम जनसंख्या वाले नगर निकायों को 499 करोड़ रुपए की राशि वितरित की जाएगी। इसके साथ ही नगर निकाय के विकास मॉडल को लेकर भी सीएम शिवराज चर्चा करेंगे। माना जा रहा है कि नगर निकायों के लिए सीएम शिवराज कुछ बड़े ऐलान भी कर सकते हैं।

Read More : कर्मचारियों के DA में वृद्धि, मई में बढ़कर आएगी Salary, वित्त विभाग ने जारी किए आदेश, 36974 रूपए तक मिलेगी राशि

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के समस्त नगरीय निकायों को 15वें वित्त आयोग की अनुशंसित 931 करोड़ 50 लाख रूपये की राशि 18 अप्रैल को सिंगल क्लिक के माध्यम से जारी करेंगे। इसमें चार मिलियन प्लस शहरों (दस लाख से अधिक जनसंख्या वाले) को 432 करोड़ 50 लाख एवं नॉन मिलियन प्लस शहरों को 499 करोड़ रूपये की राशि अंतरित होगी।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया है कि इस राशि से इन शहरों में वायु गुणवत्ता सुधार, पेयजल योजनाओं, सीवरेज एवं स्वच्छता के कार्य तथा आवश्यकतानुसार स्थानीय विकास के कार्य किये जा सकेंगे। मिलियन प्लस शहर वायु गुणवत्ता सुधार संबंधी कार्य के लिये 131 करोड़ 50 लाख रूपये और पेयजल, सीवरेज एवं स्वच्छता संबंधी कार्यों में 301 करोड़ रूपये खर्च कर सकेंगे। इसी तरह नॉन मिलियन शहर 199 करोड़ 60 लाख रूपये स्थानीय विकास के कार्य और 299 करोड़ 40 लाख रूपये स्वच्छता, सीवरेज, पेयजल, जल संरक्षण संबंधित आदि कार्य में व्यय करेंगे।

आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के तहत सभी नगर निकायों को 15 वे वित्त आयोग के अनुसार राशि का अंतरण किया जाएगा। साथ ही विकास मॉडल के पत्र पर अग्रसर हो रहे मध्य प्रदेश के लिए सीएम कई नवीन योजनाओं की शुरुआत कर चुके हैं। नगर निकायों की शासकीय योजनाओं को तेजी मिले। इसके लिए राशि अंतरित की जाएगी।