स्थानीय युवाओं के लिए सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, होगी नियुक्ति, इन्हें मिलेंगे 7वें वेतनमान के साथ प्रोत्साहन भत्ते

सीएम शिवराज ने प्रोत्साहन भत्ते को सातवें वेतनमान में भी कायम रखे जाने पर सहमति जताई।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) ने कहा कि हॉक फोर्स में स्थानीय युवाओं (Hawk Force local youth/Employees) की भर्ती आवश्यक है। इस में भर्ती प्रक्रिया (Recruitment Process) को लेकर निर्देश पहले ही दिए जा चुके हैं। वहीं नक्सलियों के नक्सल नियंत्रण क्षेत्र से उन्हें खत्म करने के लिए हॉक फोर्स के जवानों -Employees की नियुक्ति होनी आवश्यक है। हॉक फोर्स केवल सेवाएं नहीं बल्कि एक मिशन है। जिसे देश सुरक्षा के लिए दायित्व सौंपा गया है। इसके साथ ही उन्होंने हॉक फोर्स के जवानों की 7th pay scale वेतन (salary) और भत्ते (allowances) पर भी खुलकर चर्चा की है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि शासन की जन-कल्याणकारी योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन से लोगों का जीवन आसान हो। जनता का प्रशासन में विश्वास बढ़े। सामूहिक वन प्रबंधन का भी प्रभावी क्रियान्वयन होना चाहिए। सीएम शिवराज आज बालाघाट जिले के मुक्की में पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ नक्सल उन्मूलन अभियान की समीक्षा कर रहे थे।

सीएम शिवराज ने कहा कि हॉक फोर्स में स्थानीय युवाओं की भर्ती आवश्यक है। भर्ती प्रक्रिया से संबंधित निर्देश पूर्व में दिए जा चुके हैं। आत्म-समर्पण कर चुके नक्सलियों का नक्सल नियंत्रण अभियान में सहयोग लिए जाने की योजना पर अमल हो रहा है। हॉक फोर्स के जवान जिन स्थान पर अपनी सेवाएँ दे रहे हैं, वहाँ न्यूनतम जरूरतों और सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध करने के निर्देश दिये गये।

Read More : उम्मीदवार-कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, होगी नियुक्ति, मानदेय से खाते में आएंगे डेढ़ लाख रूपए

सीएम शिवराज ने कहा कि संसाधनों की कमी नहीं रहना चाहिए। उन्होंने हॉक फोर्स के जवानों को वर्ष 2018 से छठवें वेतनमान के अनुसार दिए जा रहे प्रोत्साहन भत्ते को सातवें वेतनमान में भी कायम रखे जाने पर सहमति जताई। प्रक्रिया के पालन के निर्देश पूर्व में ही दिए गए हैं। सीएम शिवराज ने प्रोत्साहन भत्ते को सातवें वेतनमान में भी कायम रखे जाने पर सहमति जताई।

सीएम शिवराज ने नक्सल प्रभावित क्षेत्र में सेवाएँ दे रहे हॉक फोर्स के जवानों से मुलाकात कर चर्चा की। सीएम शिवराज ने विपरीत परिस्थितियों में भी काम करने में आने वाली समस्याओं की पड़ताल करते हुए बेहतरीन कार्य करने पर जवानों की हौसला अफजाई की। सीएम शिवराज ने हॉक फोर्स के जवानों से कहा कि आपकी सेवाएँ सिर्फ नौकरी नहीं बल्कि एक मिशन है, जो देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए सौंपा गया महत्वपूर्ण दायित्व है। आप बड़े मिशन के लिए कार्य कर रहे हैं। आपका पराक्रम और समर्पण सराहनीय है। आपके साहस और शौर्य को मैं प्रणाम करता हूँ।

सीएम शिवराज ने कहा कि प्रदेश में किसी भी स्थान पर हिंसा की विचारधारा को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। लोकतंत्र में इसका कोई स्थान नहीं है। प्रदेश के अनेक हिस्सों में अपराधों में लिप्त तत्वों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जा रही है। बालाघाट जोन के पुलिस महानिरीक्षक संजय कुमार सिंह, कलेक्टर बालाघाट डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा, पुलिस अधीक्षक सौरभ समीर, हॉक फोर्स के कमांडेंट आदित्य सिंह और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।