MP के पुलिसकर्मियों और थानों के लिए महत्वपूर्ण नियम, पुलिस आयुक्त ने जारी किए दिशा निर्देश

9 बिंदुओं के साथ शहर के सभी थाने में इस बात की जानकारी प्रेषित की है।

UP POLICE 2022

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में जनता के हित के लिए सड़क पर तैनात पुलिसकर्मी तेजी से संक्रमण की चपेट में आ रहे। जिस को देखते हुए प्रमाण Corona संक्रमण से पुलिसकर्मियों के बचाव की तैयारी की गई है। इस मामले में राजधानी के पुलिस आयुक्त ने मंगलवार को दिशा निर्देश जारी किया। जिसके मुताबिक 50 वर्ष से अधिक उम्र के पुलिसकर्मियों को क्षेत्रों में तैनात नहीं किया जाएगा। उन्होंने 9 बिंदुओं के साथ शहर के सभी थाने में इस बात की जानकारी प्रेषित की है।

दरअसल पुलिस आयुक्त मकरंद देउसकर ने मंगलवार को नौ बिंदुओं के दिशा निर्देश जारी किए हैं। जिसके मुताबिक अब 50 वर्ष से अधिक उम्र के पुलिसकर्मियों को शहर के भीड़भाड़ वाले इलाकों में तैनात नहीं किया जाएगा। साथ ही आने वाली सभी शिकायतकर्ता को थाने में अंदर प्रवेश करने से पहले सैनिटाइज करना आवश्यक होगा। इसके साथ ही पुलिसकर्मी शिकायतकर्ता से शिकायत सुनते समय शारीरिक दूरी का पालन करेंगे। इसके साथ ही साथ मुंह पर मास्क और हाथ में दस्ताने पहनना अनिवार्य होगा।

Read More : CM Rise School पर बड़ी अपडेट, लिस्ट जारी, ऑनलाइन संचालित होगा ट्रेनिंग प्रोग्राम

इतना ही नहीं 50 वर्ष की उम्र से अधिक के पुलिसकर्मियों के साथ ही बीमार पुलिसकर्मियों की ड्यूटी भीड़भाड़ वाले इलाकों में नहीं लगेगी। जैसे रेलवे स्टेशन अस्पताल, बाहर एयरपोर्ट पर ऐसे पुलिसकर्मियों की तैनाती नहीं की जाएगी।इतना ही नहीं नगर निगम की मदद से थाना परिसर, हवालात को समय-समय पर सैनिटाइज कराना अनिवार्य होगा।इसके साथ ही पुलिस समय-समय पर कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के लिए उद्घोषणा करेगी ताकि पुलिस कर्मी भी गाइडलाइन का पालन करें।

इस मामले में पुलिस आयुक्त ने कहा कि खोलने की तीसरी लहर के संक्रमण की रफ्तार काफी अधिक है। पुलिसकर्मी तेजी से संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। जिससे उन्हें ड्यूटी करने से पहले खुद को बचाने के निर्देश जारी किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक अब तक राजधानी में 55 से अधिक पुलिस कर्मचारी की रिपोर्ट कोरोना संक्रमित आ चुकी है। जिसको देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।